जारी किया पप्पू यादव ने चुनावी मैनिफेस्टो,स्टूडेंट्स को बाइक/स्कूटी देने के किया वादा

पटना: जन अधिकार पार्टी (जाप) ने बिहार विधानसभा चुनाव से पहले अपना ‘प्रतिज्ञा पत्र’ (चुनावी मैनिफेस्टो) जारी किया. इस प्रतिज्ञा पत्र को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने शपथ पत्र के साथ जारी किया. प्रतिज्ञा पत्र जारी करने के बाद पप्पू यादव ने कहा कि आज पहली बार राजनीति शास्त्र नहीं समाज शास्त्र के रूप में प्रतिज्ञा पत्र लाया गया है. उन्होंने कहा कि बिहार को 30 साल तक ‘दो भाइयों’ ने लूटा है.

 

बिहार के बेटे के रूप में मैं एक कार्यकाल मांग रहा हूं- पप्पू

 

पप्पू यादव ने कहा, “आज एक सेवक और बिहार के बेटे के रूप में मैं एक कार्यकाल मांग रहा हूं. पहली बार फॉरवर्ड, बैकवर्ड, हिन्दू, मुस्लमान, दलित, महादलित जैसे शब्दों को बिहार से उखाड़ने का काम इस प्रतिज्ञा पत्र के माध्यम से किया है.” प्रतिज्ञा पत्र को ज्ञान, संघर्ष और परिश्रम का दस्तावेज बताते हुए पप्पू यादव ने कहा कि बिहार की वर्तमान स्थिति को बदलने के लिए जाप प्रतिबद्ध है. सभी समुदायों को समान हक और सम्मान देने के लिए सभी वर्गों से एक-एक उपमुख्यमंत्री बनाया जाएगा. इंटर की परीक्षा प्रथम श्रेणी से पास करने वाले छात्रों को मोटरसाइकिल एवं छात्राओं को स्कूटी देने की घोषणा की.

 

उन्होंने कहा कि, मिड डे मील रसोइये, विकास मित्र, टोला सेवक, शिक्षा सेवक तालिमी मरकज और आंगनबाड़ी सेविकाओं के मानदेय को बढ़ाने की बात प्रतिज्ञा पत्र में की गई है. इसके अलावा वृद्ध और विधवा पेंशन समेत सभी प्रकार के पेंशन की राशि को 500 से बढ़ाकर 3,000 रुपए प्रतिमाह करने की भी बात की गई है. वित्त रहित प्रोफेसर, गेस्ट फैकल्टी प्रोफेसर, निविदा, संविदा, नियोजित पर बहाली नहीं होगी, सभी की स्थाई नियुक्ति की जाएगी.

 

सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर फिल्म सिटी के निर्माण का वादा- पप्पू यादव

 

स्वास्थ्य व्यवस्था में सुधार का भरोसा दिलाते हुए ‘जाप’ अध्यक्ष ने कहा कि तीन साल के अन्दर हर अनुमंडल में 300 बेड का अस्पताल होगा. उन्होंने कहा, “प्राथमिक से विश्वविद्यालय स्तर तक सभी के लिए समान और नि:शुल्क शिक्षा होगी साथ ही स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड लोन की राशि को 4 लाख से बढ़ाकर 10 लाख कर दिया जाएगा.”

 

सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर फिल्म सिटी के निर्माण का वादा करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि आज यदि बिहार के प्रतिभावान युवा दूसरे राज्यों में उपेक्षा के शिकार हो रहे हैं उसका कारण बिहार में खेल और मनोरंजन के लिए आधारभूत संरचना का अभाव है. हमारी सरकार हर जिले में खेल स्टेडियम बनाएगी.

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *