Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

दिल्ली: अब होटल और शादी समारोह में ‘फ्लाइंग शेफ’ टेबल तक पहुंचाएंगे खानपान

नई दिल्ली: अनलॉक-4 (Unlock-4) के तहत आम लोगों को कई तरह की पाबंदियों मे छूट दे दी गई है. महामारी के बीच सावधानियां बरतते हुए शादी समारोह में 50 और अंतिम संस्कार में 20 लोगों को ही मौजूद होने की इजाजत दी गई थी जो अब बढ़ा कर 100 लोगों तक कर दी गई है. कोरोना काल (Corona Period) में इस फैसले से सबसे बड़ी राहत उन लोगों को मिली है जो शादी या कार्यक्रमों को आयोजित करने का काम करते हैं. धार्मिक गतिविधियों में भी शामिल होने वाले लोगों की सीमा बढ़ाकर 100 कर दी गई है.

 

दिल्ली में लगातार सामने आ रहे कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के मामले को देखते हुए कार्यक्रम आयोजितकर्ता को कहीं ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत होगी. साथ ही सरकार द्वारा जारी की गई SOP का पालन भी करना होगा. होटलों में किस तरह से सावधानियां बरती जाएंगी, इसका डेमो देते हुए गुरुग्राम स्तिथ ली मेरिडियन होटल में करीब 30 से ज्यादा शेफ ने शिरकत दी, जिन्होंने फ्लाइंग शेफ का कॉन्सेप्ट सरकार के प्रतिनिधि के सामने पेश किया.

 

गेस्ट खुद खाना सर्व नहीं करेंगे
दरअसल इस तरकीब के मुताबिक सालों से चलते आ रहे बुफे सिस्टम को बदल दिया गया है. संक्रमण के खतरे को ध्यान में रखते हुए गेस्ट खुद खाना सर्व नहीं करेंगे बल्कि शेफ को अपनी पसंद का खाना ऑर्डर करेंगे और ये खाना उनके पास सीधे टेबल पर उपलब्ध कराया जाएगा. वहीं दूसरे तरीके के अनुसार आप खुद शेफ तक जाकर अपने लिए पसंदीदा खाना काउंटर पर तैयार करवा सकते हैं लेकिन अपनी पसंद से खाने, पीने का कोई सामान उठा नहीं सकते.

नई दिल्ली: अनलॉक-4 (Unlock-4) के तहत आम लोगों को कई तरह की पाबंदियों मे छूट दे दी गई है. महामारी के बीच सावधानियां बरतते हुए शादी समारोह में 50 और अंतिम संस्कार में 20 लोगों को ही मौजूद होने की इजाजत दी गई थी जो अब बढ़ा कर 100 लोगों तक कर दी गई है. कोरोना काल (Corona Period) में इस फैसले से सबसे बड़ी राहत उन लोगों को मिली है जो शादी या कार्यक्रमों को आयोजित करने का काम करते हैं. धार्मिक गतिविधियों में भी शामिल होने वाले लोगों की सीमा बढ़ाकर 100 कर दी गई है.

 

दिल्ली में लगातार सामने आ रहे कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के मामले को देखते हुए कार्यक्रम आयोजितकर्ता को कहीं ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत होगी. साथ ही सरकार द्वारा जारी की गई SOP का पालन भी करना होगा. होटलों में किस तरह से सावधानियां बरती जाएंगी, इसका डेमो देते हुए गुरुग्राम स्तिथ ली मेरिडियन होटल में करीब 30 से ज्यादा शेफ ने शिरकत दी, जिन्होंने फ्लाइंग शेफ का कॉन्सेप्ट सरकार के प्रतिनिधि के सामने पेश किया.

 

गेस्ट खुद खाना सर्व नहीं करेंगे
दरअसल इस तरकीब के मुताबिक सालों से चलते आ रहे बुफे सिस्टम को बदल दिया गया है. संक्रमण के खतरे को ध्यान में रखते हुए गेस्ट खुद खाना सर्व नहीं करेंगे बल्कि शेफ को अपनी पसंद का खाना ऑर्डर करेंगे और ये खाना उनके पास सीधे टेबल पर उपलब्ध कराया जाएगा. वहीं दूसरे तरीके के अनुसार आप खुद शेफ तक जाकर अपने लिए पसंदीदा खाना काउंटर पर तैयार करवा सकते हैं लेकिन अपनी पसंद से खाने, पीने का कोई सामान उठा नहीं सकते.

शेफ आपको तैयार किया गया खाना एक प्लैटर में रखकर उचित दूरी से पकड़ा देंगे और खाना देने के बाद अपने हाथों और बर्तन को तुरंत दूसरे गेस्ट के आने से पहले सैनिटाइज भी किया जाएगा. डेमो देने के लिए पहुंचे शेफ पंकज बताते हैं कि “सुरक्षा लिहाज से हम सभी जरूरी कदम उठा रहे हैं जैसे काउंटर पर खाना दिखेगा लेकिन कहीं भी चम्मच नहीं है. गेस्ट खुद कुछ नहीं ले सकते है. उन्हें शेफ खाना तैयार कर प्लैटर में रखकर और दूरी बनाकर सर्व करेंगे. गेस्ट खाने का आर्डर देंगे और उन्हें खाना टेबल तक खाना पहुंचाया जाएगा. सभी शेफ का 15 दिन पहले कोरोना वायरस का टेस्ट हुआ है. सभी पर नजर रखी जाती है खांसी, बुखार होने पर तुरंत क्वॉरंटीन किया जाता है.”

 

स्टाफ का ऑनलाइन प्रशिक्षण
केंद्र सरकार ने महामारी में बुरी तरह प्रभावित होटल इंडस्ट्री को पटरी पर लाने के लिए होटल संचालकों और उनके स्टाफ को ऑनलाइन प्रशिक्षण देने का फैसला भी किया है. इवेंट एंड एंटरटेनमेंट मैनेजमेंट के एसोसिएशन के उपाध्यक्ष विजय अरोड़ा एपीबी न्यूज से एक्सक्लूसिव बातचीत में बताया, “हमने सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा है, रजिस्ट्रेशन एप के जरिए होगा, प्रवेश से पहले तापमान मापा जाएगा. फ्लाइंग शेफ कॉन्सेप्ट को नाम दिया गया है जहां शेफ खाना देंगे. लोगों को किसी भी बर्तन को छूने की इजाजत नहीं होगी जैसा कि बुफे सिस्टम में होता था.”

 

राशि एंटरटेनमेंट के मालिक और कई तरह के इवेंट आयोजित करवाने वाले राजीव जैन बताते हैं कि जिस तरह से केस बढ़ रहे हैं उसके अनुसार 100 लोगों की सीमा भी हमारे लिए बहुत हैं. हम SOP फॉलो कर रहे हैं और एक हजार लोगों का इवेंट भी अच्छे से आयोजित कर सकते हैं. अगर निरीक्षण के दौरान कहीं भी कमी नजर आए तो सरकार हमारा इवेंट को कैंसल कर दे लेकिन हम लोगों को वापस से काम करने का मौका दिया जाए. हमारा व्यवसाय और कारोबार 5 लाख करोड़ का है जो अब पूरी तरह से गर्त में चला गया है. देश की आर्थिक स्तिथि को पटरी पर लाने के लिए हम योगदान देना चाहते हैं.

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *