24 घंटे में 14 की मौत, 391 नए मरीज़

-राजधानी में 2290 लोगों ने कोरोना जांच के लिए दर्ज कराया गलत नाम, पता और मोबाइल नंबर

भाइयो ने बहनों को दिया कोरोना से बचाव का वचन

LUCKNOW: राजधानी पुलिस ने कोरोना संक्रमित 1171 लापता लोगों का पता लगाया है। इन सभी ने टेस्ट कराने के दौरान अपना नाम, पता व मोबाइल नंबर गलत दर्ज कराया था। खास बात यह है कि अब भी कुल 1119 संक्रमित लोग ऐसे हैं, जिनक बारे में पता नहीं चल सका है।

जांच के दौरान पहचान छिपा रहे

पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय के मुताबिक कोरोना संक्रमित पाए जाने वाले लोगों के संपर्क में कौन लोग आए हैं, इसकी जांच के लिए एक सेल गठित की गई है। छानबीन में पता चला है कि कोरोना की जांच कराने के लिए आने वाले लोग अपनी पहचान छिपा रहे हैं। यही नहीं, मोबाइल नंबर तक लोगों ने गलत दर्ज कराए हैं। मामले की गंभीरता को देखते हुए कोरोना सेल ने छानबीन शुरू की। इसके बाद 1171 लोगों की शिनाख्त की गई, जो संक्रमित पाए गए थे। संयुक्त पुलिस आयुक्त कानून व्यवस्था नवीन अरोरा ने बताया कि इंटीग्रेटेड कोविड-19 कमांड एवं कंट्रोल सेंटर से ई-मेल के माध्यम से सूची उपलब्ध कराई गई थी। इनमें 23 जुलाई से 31 जुलाई तक कुल 2290 संक्रमित लोग शामिल थे। 1119 संक्रमित लोगों के बारे में अन्य माध्यमों से पुलिस जानकारी जुटा रही है। जेसीपी का कहना है कि लोगों को ट्रेस करने के बाद उसकी सूची कंट्रोल सेंटर को आगे की कार्यवाही के लिए भेज दी गई है