भारत पर हमले की फिराक में पाकिस्तान ! चीन के साथ मिलकर कर रहा है ये काम

अमित कुमार, नई दिल्ली: भारत शैतान पाकिस्तन की हर चाल से वाकिफ। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत ने पिछले दिनों चीन और पाकिस्तान, दोनों मोर्चों से खतरों को लेकर सेना के आगाह किया था। CDS जनरल बिपिन रावत की ये आशंका सच साबित होती दिख रही है। चीन से तनाव के बीच ड्रैगन के इशारे पर भारत के खिलाफ पाकिस्तान युद्ध की तैयारी में जुट गया है। इसी कड़ी में पाकिस्‍तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने बुधवार को अपने शीर्ष जनरलों के साथ रावलपिंडी स्थित सेना मुख्‍यालय में बैठक की।

इस बैठक में जनरल बाजवा ने कहा कि पाकिस्‍तानी सेना रणनीतिक और क्षेत्रीय हालात को ध्‍यान में रखते हुए जंग की अपनी तैयारी के स्‍तर को बढ़ा दो। बाजवा ने कहा कि ‘देश के हितों के खिलाफ पाकिस्‍तान विरोधी तत्‍वों के पांचवीं पीढ़ी के युद्ध कौशल और हाइब्रिड वॉरफेयर को देखते हुए सेना सरकार की नीतियों के साथ मिलकर देश की रक्षा करे।’ पाकिस्‍तानी सेना प्रमुख ने आरोप लगाया कि भारत लगातार सीजफायर का उल्‍लंघन कर रहा है जो क्षेत्रीय शांति और स्थिरता के लिए बड़ा खतरा है।

आपको बता दें कि पिछले दिनों पाकिस्‍तान के डिफेंस डे और शहीद दिवस पर रावलपिंडी में आयोजित कार्यक्रम में जनरल बाजवा ने कहा था कि हम पांचवीं पीढ़ी या हाइब्रिड का सामना कर रहे हैं। इसका उद्देश्‍य पाकिस्‍तान और सेना को बदनाम करना तथा अव्‍यवस्‍था पैदा करना है। उन्‍होंने कहा, ‘हम इस खतरे से वाकिफ हैं और देश की मदद से इस जंग को निश्चित रूप से जीतेंगे।’ भारत का नाम लिए बिना बाजवा ने कहा कि अगर हमारे ऊपर युद्ध थोपा गया तो हम हर एक आक्रामक कार्रवाई का करारा जवाब देंगे।

गौरतलब है कि सीडीएस जनरल बिपिन रावत ने कहा कि चीन और पाकिस्तान सैन्य, आर्थिक और कूटनीतिक स्तर पर साथ मिलकर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि ‘चीन पाकिस्तान की उसके कब्जे वाले जम्मू-कश्मीर में आर्थिक सहयोग के साथ सैन्य, आर्थिक और कूटनीतिक मदद भी कर रहा है, जिसके लिए हमें अपनी तैयारियों को पुख्ता रखना होगा।’ साथ ही उन्होंने आगे कहा कि इन दोनों से उत्तरी और पश्चिमी मोर्चे से समन्वित कार्रवाई का खतरा बना हुआ है, जिसका भारत को रक्षा योजना में ध्यान रखना होगा।

जनरल रावत ने कहा कि सैन्य बलों ने दो मोर्चों से खतरों के लिए योजना बनाई है। जनरल रावत ने कहा कि पाकिस्तान स्थिति का फायदा उठाते हुए उत्तरी सीमा पर कुछ परेशानी खड़ी कर सकता है। इसलिए भारत ने पर्याप्त तैयारी की है ताकि उसके मंसूबे नाकाम किए जा सके और उसे मकसद में कामयाबी न मिले। उन्होंने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि वह अगर कोई नापाक साजिश करता है तो उसे नुकसान उठाना पड़ सकता है।

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *