यस बैंक के MD प्रशांत कुमार को 2.84 करोड़ मिलेगा वेतन.. इनके मुकाबले होगी 10 गुना ज्यादा

नई दिल्ली। यस बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एग्जीक्युटिव के तौर पर काम करने वाले प्रशांत कुमार को 2.84 करोड़ रुपये का भुगतान एक साल की सैलरी और भत्तों के तौर पर किया जाएगा। इसी साल मार्च में यस बैंक में लोन घोटाले का बड़ा मामला सामने आया था, जिसके बाद आरबीआई ने प्रशांत कुमार को नियंत्रक के तौर पर जिम्मेदारी सौंपी थी।

तब से अब तक प्रशांत कुमार यस बैंक के कामकाज को देख रहे हैं। इससे पहले वह एसबीआई में चीफ फाइनेँशियल ऑफिसर के तौर पर काम करते थे। यस बैंक का कामकाज संभालने के लिए उन्होंने एसबीआई के सीएफओ के पद से इस्तीफा दिया था।

 

बीते करीब छह महीनों में यस बैंक में एक फिर से ग्राहकों का भरोसा कायम करने वाले प्रशांत कुमार ने 15,000 करोड़ रुपये की कैपिटल भी बैंक के लिए जुटाई है। बैंक की ओर से 10 सितंबर को होने वाली मीटिंग के लिए शेयरहोल्डर्स को दी गई सूचना में बैंक ने कहा कि वह सीनियर अधिकारियों के स्टॉक ऑप्शंस को तीन गुना करते हुए 22.5 करोड़ रुपये करने पर विचार कर रहा है।

 

बैंक के इस फैसले को टेलेंट को रोकने की रणनीति माना जा रहा है। यस बैंक में घोटाला सामने आने के बाद आरबीआई ने बोर्ड को भंग करते हुए अपना नियंत्रण स्थापित कर लिया था और फिर अपने प्रतिनिधि के तौर पर प्रशांत कुमार की नियुक्ति की थी ताकि ग्राहकों के हितों की रक्षा की जा सके।

इसके अलावा 1.05 करोड़ रुपये का अलाउंस, 72 लाख रुपये अकोमोडेशन के तौर पर मिलेगी। बता दें कि सरकारी बैंकों के कर्मचारियों की सैलरी निजी बैंकों के अधिकारियों की तुलना में काफी कम है। पिछले दिनों कोरोना काल में सैलरी कट की खबरों को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में एसबीआई चीफ रजनीश कुमार ने इस पर मजाकिया अंदाज में कहा था कि यदि हम लोगों की सैलरी कटी तो रोड पर ही आ जाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकारी बैंकों के कर्मचारियों की सैलरी पहले ही बेहद कम है।

आपको बता दें एसबीआई में सीएफओ के तौर पर काम करने वाले प्रशांत कुमार के लिए यस बैंक सैलरी के लिहाज से बड़ा मुकाम साबित हुआ है। यहां उन्हें 2.84 करोड़ रुपये सालाना का पैकेज मिलेगा, जो एसबीआई चीफ रजनीश कुमार के मुकाबले करीब 10 गुना ज्यादा है। रजनीश कुमार को फाइनेंशियल ईयर 2019-20 में 31.2 लाख रुपये की कमाई हुई थी। प्रशांत कुमार के पैकेज में 45 लाख रुपये बेसिक सैलरी के तौर पर होंगे।

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *