“लव यू अखिलेश” गीत से यूपी फतह को जुटी सपा – अभिलाषा

-पूरे प्रदेश में मनाया गया सपा सुप्रीमो का जन्मदिन
-कार्यकर्ताओं ने दिखाया उत्साह, अब पार्टी करे उत्साह का सम्मान

खबर ब्यूरो, वाराणसी : समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता अपने नेता के जन्मदिन पर यूपी चुनाव की तैयारियों जुट गए। बता दें कि बुधवार 1 जुलाई को सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का जन्मदिन था, जिसे सपा कार्यकर्ताओं ने अपने अपने अंदाज में मनाया। जहाँ मिले वहाँ सोशल डिस्टेंसिंग, सेनेटाइजेशन आदि पहलुओं का विशेष ध्यान रखा गया। यही नहीं सपाइयों ने अपनी खुशी का इज़हार सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्मों पर भी किया।

अखिलेश यादव के जन्मदिन के बहाने सपाजनों में खासा उत्साह देखने को मिला। कोई अखिलेश की तस्वीर को मिठाई और केक खिला रहा था तो कोई उनके नाम के गीत गा रहा था। सबके अपने अंदाज थे। सबके अपने तराने थे।

ऐसा लग रहा था कि अखिलेश के जन्मदिन ने एक बार में पार्टी कार्यकर्ताओं को रिचार्ज कर दिया है। जगह जगह सपा के झंडे लगी मोटरसाइकिलों, चार पहिया गाड़ियों पर बैठे कार्यकर्ता “जय अखिलेश जय अखिलेश” के नारे बुलन्द कर फर्राटा भरते दिखे।

हाँ, इन उत्साह के बीच कहीं कहीं एक मोटरसाइकिल पर बिना मास्क के ट्रिपलिंग करते उत्साही आते जाते दिख रहे थे। उनकी ज़ुबाँ अपने नेता की जय जयकार करती थक नहीं रही थी।

बुधवार का मंज़र देखकर लग रहा था कि पार्टी ने आधिकारिक तौर पर भले ही अभी कोई चुनावी शंखनाद नहीं किया लेकिन पार्टी कार्यकर्ताओं ने अपने नेता के जन्मदिन पर माहौल को चुनावी बना दिया है। आस पास से गुजरने वाले तो यही कहते दिखे कि यदि यही जोश इन कार्यकर्ताओं का बना रह गया तो अबकी चुनाव में मज़ा आ जायेगा।

एक बानगी वाराणसी के शास्त्री घाट पर समाजवादी छात्रसभा के प्रदेश सचिव मनोज यादव ‘गोलू’ ने कुछ अलग अंदाज में देखी गई। गोलू ने समाजवादी कार्यकताओं को जन्मदिन के बहाने आगामी 2022 विधानसभा चुनाव के समर की तैयारियों में दमखम भरने के लिए सोशल मीडिया के यूट्यूब प्लेटफार्म पर समाजवादी गीत “लव यू अखिलेश” लांच किया।

गोलू ने ये गीत कर पार्टी कार्यकर्ताओं को आगामी विधानसभा चुनावों के तैयारियों में जोश संचार करने का प्रयास है। यूट्यूब प्लेटफॉर्म पर लांच इस गीत को सिद्धान्त यादव ने आवाज दी जबकि अवनीश राज के निर्देशन में सरगम स्टूडियो में तैयार किया गया है।

इसके अलावा सपाइयों द्वारा वरूणा कॉरिडोर के गंदे पड़े शिलापट्ट की शिद्दत से सफाई की। इसके बाद उन्होंने पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण व कॉरिडोर संरक्षण का भी संकल्प दोहराया।

2022 के चुनाव में अभी दो वर्ष हैं। सपाइयों का बुधवार को अपने नेता के जन्मदिन पर छलका उत्साह पार्टी को संजीवनी दे सकता है। बशर्ते पार्टी हाईकमान इन ज़मीनी कार्यकर्ताओं की नब्ज को समझें। उनकी परेशानियों को सुनें। अपनी न थोपे। और सबसे बड़ी बात पार्टी को परिवार से ऊपर रखे।

 

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *