Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

18 people of UP trapped in a steel company in Kabul, Suraj of Chandauli said, the owner of the company has run away with everyone’s passport … | चंदौली के सूरज ने घरवालों को फोन पर कहा- कंपनी का मालिक पासपोर्ट लेकर भाग गया, यहां से जल्दी नहीं निकले तो मार दिए जाएंगे


चंदौलीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
उत्तर प्रदेश के 18 लोग अभी काबुल में फंसे हैं। वे वहां एक स्टील फैक्ट्री में काम करते हैं। इन लोगों ने भारत सरकार से वतन वापसी की गुहार लगाई है। - Dainik Bhaskar

उत्तर प्रदेश के 18 लोग अभी काबुल में फंसे हैं। वे वहां एक स्टील फैक्ट्री में काम करते हैं। इन लोगों ने भारत सरकार से वतन वापसी की गुहार लगाई है।

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में सैकड़ों भारतीय फंसे हैं। इसमें उत्तर प्रदेश के 18 लोग भी हैं। ये लोग वहां स्थित एक स्टील फैक्ट्री में काम करते हैं। इन्होंने भारत सरकार से वतन वापसी की गुहार लगाई है। काबुल में फंसे लोगों में यूपी के चंदौली स्थित अमोघपुर गांव के सूरज भी हैं।

सूरज ने घरवालों को फोन करके वहां के हालात के बारे में बताया है। कहा कि उनकी तरह यूपी के 18 लोग काबुल की एक स्टील फैक्ट्री में काम करते हैं। सभी का पासपोर्ट फैक्ट्री का मालिक लेकर भाग गया है। कोई सुनवाई नहीं हो रही है। अगर जल्द यहां से नहीं निकाले गए तो हम सभी मारे जाएंगे।

काबुल से लाए जा रहे भारतीय, अभी भी सैकड़ों फंसे
अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को देखते हुए भारत सरकार ने अफगानिस्तान में भारतीय राजदूत रुदेंद्र टंडन और स्टाफ को वापस बुला लिया है। वायुसेना का ग्लोबमास्टर C-17 एयरक्राफ्ट काबुल से 150 लोगों को लेकर गुजरात के जामनगर पहुंच चुका है। वहां से गाजियाबाद आएगा। भारतीय राजदूत भी इसी विमान से आए हैं। हालांकि, अभी भी बड़ी संख्या में भारतीय वहां फंसे हैं।

सूरज की पत्नी रेखा चौहान पति की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने बताया कि वह रोज फोन पर बात कर रही हैं।

सूरज की पत्नी रेखा चौहान पति की सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं। उन्होंने बताया कि वह रोज फोन पर बात कर रही हैं।

सूरज के परिजन को चिंता, सरकार से लगाई गुहार
सूजर के परिजन ने सरकार से उसकी सुरक्षित घर वापसी के लिए गुहार लगाई है। वह सूरज के संपर्क में हैं और वीडियो कॉल से बात कर रहे हैं। वहां के हालात जानकर उन्हें डर लग रहा है। सूरज के पिता बुधिराम लकवे की बीमारी से ग्रस्त हैं। वह ज्यादा कुछ कह नहीं सकते, पर जब से पता चला है कि बेटा काबुल में फंसा है तो उनकी आंखों में आंसू हैं। सूरज की 2014 में शादी हुई थी। पत्नी रेखा चौहान और 3 साल का बेटा है।

सूरज के परिवार ने सरकार से गुहार लगाई है कि उनके बेटे को जल्द सुरक्षित वापस भारत लाया जाए।

सूरज के परिवार ने सरकार से गुहार लगाई है कि उनके बेटे को जल्द सुरक्षित वापस भारत लाया जाए।

गृह मंत्रालय ने इमरजेंसी वीजा शुरू किया
इस बीच गृह मंत्रालय ने अफगानिस्तान से भारत आने वाले लोगों के लिए वीजा नियमों में बदलाव किया है। मौजूदा हालात को देखते हुए इलेक्ट्रोनिक वीजा की एक नई कैटेग्री e-Emergency X-Misc Visa शुरू की गई है। अफगानिस्तान से भारत आने वाले लोगों को जल्द से जल्द वीजा मिल सके, इसके लिए यह सुविधा शुरू की गई है।

काबुल की स्टील कंपनी में फंसे भारतीय कर्मचारी वीडियो कॉल पर काबुल के हालातों के बारे में बता रहे हैं कि कैसे उनकी जिंदगी मुश्किल में फंस गई है।

काबुल की स्टील कंपनी में फंसे भारतीय कर्मचारी वीडियो कॉल पर काबुल के हालातों के बारे में बता रहे हैं कि कैसे उनकी जिंदगी मुश्किल में फंस गई है।

एक कमरे में सभी भारतीय हैं। वे सभी डरे हुए हैं।

एक कमरे में सभी भारतीय हैं। वे सभी डरे हुए हैं।

वीडियो कॉल पर परिवार से बात करते हुए काबुल में फंसे भारत के कर्मचारी।

वीडियो कॉल पर परिवार से बात करते हुए काबुल में फंसे भारत के कर्मचारी।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *