25% More Candidates To Be Called For Technical Assistant Posts – प्राविधिक सहायक के पदों के लिए बुलाए जाएंगे 25 फीसदी ज्यादा अभ्यर्थी


यूपी अधीनस्थ सेवा चयन आयोग
– फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

कृषि सेवा (वर्ग-3) में प्राविधिक सहायक ग्रुप-सी के रिक्त पदों पर चयन के लिए 25 प्रतिशत अधिक अभ्यर्थियों को अभिलेख परीक्षण के लिए बुलाया जाएगा। उप्र अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष प्रवीर कुमार की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार को हुई बैठक में यह फैसला किया गया है। इस फैसले के बाद उन अभ्यर्थियों की सूची आयोग की वेबसाइट upsssc.gov.in पर अपलोड कर दी गई है, जिनको अभिलेख परीक्षण के लिए बुलाया जाना है।

आयोग के सचिव आशुतोष मोहन अग्निहोत्री ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है। जारी आदेश में कहा गया है कि प्रमाण पत्र मिलान के लिए 745 अभ्यर्थियों की अनुपूरक सूची अनुमोदित की गई है। इनके प्रमाण पत्रों के मिलान की तिथि अलग से घोषित की जाएगी। अर्हता अभिलेख परीक्षण के लिए अर्ह अभ्यर्थियों की अनुपूरक सूची अंतिम चयन परिणाम के लिए नहीं है। इसलिए चयन के लिए इनका अंतिम दावा स्वीकार नहीं किया जाएगा।

बैठक में यह फैसला भी किया गया कि चयन संबंधी अंतिम परिणाम बाद में घोषित होगा। प्रमाण पत्र मिलान के लिए गैर हाजिर अभ्यर्थियों को उचित कारण बताने पर एक मौका और दिया जाएगा। अंतिम चयन परिणाम घोषित होने के बाद अभ्यर्थियों के लिखित परीक्षा के प्राप्तांक आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध कराए जाएंगे।

2018 में हुई थी लिखित परीक्षा
आयोग ने अधीनस्थ कृषि सेवा (वर्ग-3) प्राविधिक सहायक ग्रुप-सी के 2059 पदों पर भर्ती के लिए वर्ष 2018 में लिखित परीक्षा कराई थी। इसका परिणाम सितंबर-2020 में घोषित किया गया था। इसमें उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को 8 से 29 अक्तूबर 2020 के बीच प्रमाण पत्रों के परीक्षण के लिए बुलाया गया था, लेकिन योग्य उम्मीदवार नहीं मिले। इसलिए रिक्त पदों को भरने के लिए अब 25 फीसदी अधिक अभ्यर्थियों को अभिलेख परीक्षण के लिए बुलाने का फैसला किया गया है।
उप्र अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने समूह ‘ग’ के पदों पर भर्ती की प्रारंभिक अर्हता परीक्षा के लिए पाठ्यक्रम तय कर दिया है। अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक मुकुल सिंघल की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार को हुई बैठक में पाठ्यक्रम पर सहमति बन गई है। जल्द ही इससे संबंधित आदेश जारी किया जाएगा। नई व्यवस्था में प्रारंभिक अर्हता परीक्षा दो घंटे की होगी और इसमें 100 प्रश्न पूछे जाएंगे।गलत जवाब देने पर निगेटिव मार्किंग भी की जाएगी। एक सवाल गलत होने पर एक चौथाई अंक कटेगा।

निर्धारित पाठ्यक्रम के मुताबिक परीक्षा में भारतीय इतिहास, भारतीय आंदोलन, भूगोल, भारतीय अर्थव्यवस्था, भारतीय संविधान, लोक प्रशासन, सामान्य विज्ञान से संबंधित सवाल पूछे जाएंगे। साथ ही कक्षा आठ के स्तर की प्रारंभिक अंकगणित, तर्क एवं तर्क शक्ति, सामान्य हिंदी, सामयिकी, सामान्य जागरूकता, गद्य विश्लेषण एवं विवेचन, ग्राफ  का विवेचन एवं विश्लेषण संबंधी सवाल पूछे जाएंगे। इसमें छह सवाल 10-10 अंक के होंगे और शेष प्रश्न पांच-पांच अंक के होंगे।

आयोग शासन से मंजूरी मिलने के बाद पाठ्यक्रम को ऑनलाइन करेगा, जिससे समूह ‘ग’ की भर्ती में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को इसकी जानकारी मिल सके। प्रारंभिक अर्हता परीक्षा परिणाम परसेंटाइल के आधार पर जारी किया जाएगा। 
 

कृषि सेवा (वर्ग-3) में प्राविधिक सहायक ग्रुप-सी के रिक्त पदों पर चयन के लिए 25 प्रतिशत अधिक अभ्यर्थियों को अभिलेख परीक्षण के लिए बुलाया जाएगा। उप्र अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष प्रवीर कुमार की अध्यक्षता में बृहस्पतिवार को हुई बैठक में यह फैसला किया गया है। इस फैसले के बाद उन अभ्यर्थियों की सूची आयोग की वेबसाइट upsssc.gov.in पर अपलोड कर दी गई है, जिनको अभिलेख परीक्षण के लिए बुलाया जाना है।

आयोग के सचिव आशुतोष मोहन अग्निहोत्री ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है। जारी आदेश में कहा गया है कि प्रमाण पत्र मिलान के लिए 745 अभ्यर्थियों की अनुपूरक सूची अनुमोदित की गई है। इनके प्रमाण पत्रों के मिलान की तिथि अलग से घोषित की जाएगी। अर्हता अभिलेख परीक्षण के लिए अर्ह अभ्यर्थियों की अनुपूरक सूची अंतिम चयन परिणाम के लिए नहीं है। इसलिए चयन के लिए इनका अंतिम दावा स्वीकार नहीं किया जाएगा।

बैठक में यह फैसला भी किया गया कि चयन संबंधी अंतिम परिणाम बाद में घोषित होगा। प्रमाण पत्र मिलान के लिए गैर हाजिर अभ्यर्थियों को उचित कारण बताने पर एक मौका और दिया जाएगा। अंतिम चयन परिणाम घोषित होने के बाद अभ्यर्थियों के लिखित परीक्षा के प्राप्तांक आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध कराए जाएंगे।

2018 में हुई थी लिखित परीक्षा

आयोग ने अधीनस्थ कृषि सेवा (वर्ग-3) प्राविधिक सहायक ग्रुप-सी के 2059 पदों पर भर्ती के लिए वर्ष 2018 में लिखित परीक्षा कराई थी। इसका परिणाम सितंबर-2020 में घोषित किया गया था। इसमें उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को 8 से 29 अक्तूबर 2020 के बीच प्रमाण पत्रों के परीक्षण के लिए बुलाया गया था, लेकिन योग्य उम्मीदवार नहीं मिले। इसलिए रिक्त पदों को भरने के लिए अब 25 फीसदी अधिक अभ्यर्थियों को अभिलेख परीक्षण के लिए बुलाने का फैसला किया गया है।


आगे पढ़ें

समूह ‘ग’ की भर्ती के लिए प्रारंभिक अर्हता परीक्षा का पाठ्यक्रम तय, गलत जवाब देने पर कटेंगे अंक



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *