Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

5-member committee headed by former Maharashtra CM Ashok Chavan; Will review party’s performance in 5 states including Bengal, Kerala | महाराष्ट्र के पूर्व CM अशोक चव्हाण के नेतृत्व में बनी 5 सदस्यीय समिति; पार्टी के प्रदर्शन की करेंगे समीक्षा


  • Hindi News
  • National
  • 5 member Committee Headed By Former Maharashtra CM Ashok Chavan; Will Review Party’s Performance In 5 States Including Bengal, Kerala

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली13 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की मीटिंग के एक दिन बाद पार्टी ने विधानसभा चुनावों में हार को लेकर एक कमेटी का गठन किया है। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण के नेतृत्व में बनी 5 सदस्यीय समिति हार पर मंथन करेगी। इस समिति में चव्हाण के अलावा, सलमान खुर्शीद, मनीष तिवारी, विंसेट एच पाला और जोथी मनी शामिल हैं।

पांचों चुनावी राज्य जाएगी कमेटी
कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, यह समिति पश्चिम बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी का दौरा करेगी। कमेटी इन राज्यों के पार्टी कार्यकर्ताओं, उम्मीदवारों से लेकर राज्य के शीर्ष नेतृत्व से बातचीत कर रिपोर्ट तैयार करेगी और कांग्रेस अध्यक्ष को सौंपेगी।

पश्चिम बंगाल में लगा पार्टी को जोर का झटका
कांग्रेस पार्टी को पश्चिम बंगाल में तगड़ा झटका लगा है। पार्टी को पहली बार यहां एक भी सीट नहीं मिली। कांग्रेस ने यहां CPI (M) और फुरफुरा शरीफ के प्रमुख मौलवी अब्बास सिद्दिकी की पार्टी भारतीय धर्मनिरपेक्ष मोर्चा (ISF) के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही थी। यहां पार्टी को एक भी सीट नहीं जीत सकी। यहां तक की अपने मजबूत गढ़ों में भी उसे हार का सामना करना पड़ा।

असम और केरल से थी आस, पुडुचेरी से धोया हांथ
कांग्रेस को इस बात का विश्वास था कि पार्टी असम और केरल में सत्ता में वापसी कर लेगी। लेेकिन ऐसा संभव नहीं हो सका। यहां भी पार्टी को हार झेलनी पड़ी। पुडुचेरी में पिछली बार सरकार बनाने के बाद पार्टी को यहां करारी हार का सामना करना पड़ा। हालांकि, राहत की बात यह रही कि कांग्रेस ने तमिलनाडु में अपने साथी डीएमके के साथ 10 साल बाद सत्ता में वापसी कर ली।

सोनिया गांधी ने जताई थी चिंता
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने हालिया विधानसभा चुनावों में पार्टी के प्रदर्शन को निराशाजनक बताया था। उनहोंने कहा था कि इस हार से सबक लेने की जरूरत है। सूत्रों के मुताबिक, CWC की बैठक में बंगाल के कांग्रेस प्रभारी जितिन प्रसाद ने राज्य में पार्टी के खराब प्रदर्शन के लिये ISF के साथ गठबंधन को जिम्मेदार माना। बैठक में असम में एआईयूडीएफ के साथ कांग्रेस के गठबंधन पर भी सवाल उठा।

सोनिया बोलीं- सच का सामना करना होगा
CWC की बैठक में 4 राज्यों के चुनाव में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन पर भी चर्चा हुई। अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने हार पर चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा- इस हार पर ध्यान देना होगा। अगर सच्चाई से मुंह फेरा तो सही सबक नहीं मिलेगा।

उन्होंने कहा कि मैं एक ग्रुप बनाना चाहती हूं, जो इस हार के हर पहलू पर विचार करेगा। हमें ये समझना होगा कि केरल और असम में क्यों हारे। बंगाल में हमारे हाथ कुछ भी क्यों नहीं लगा। ये कड़वे अध्याय हैं, लेकिन हम सच का सामना नहीं करेंगे और सही तथ्यों को नजरंदाज करेंगे तो सही सबक हासिल नहीं कर पाएंगे।

कोरोना राहत कार्यों के लिए आजाद की अगुआई में टास्क फोर्स
कांग्रेस ने कोरोना महामारी के दौरान लोगों तक राहत कार्य पहुंचाने के लिए 13 लोगों की टास्क फोर्स का गठन किया है। इसका नेतृत्व पूर्व स्वास्थ्य मंत्री गुलाम नबी आजाद करेंगे। इस टास्क फोर्स में प्रियंका गांधी, अंबिका सोनी, जयराम रमेश, रणदीप सुरजेवाला, पवन खेड़ा और बीवी श्रीनिवास शामिल हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *