वारणसी : सड़कों का निरीक्षण करने पहुंचे राज्य मंत्री रवीन्द्र जायसवाल ने अधिकारियों को लगाई फटकार

उत्तर प्रदेश के स्टांप एवं न्यायालय पंजीयन शुल्क राज्यमन्त्री (स्वतंत्र प्रभार) रवीन्द्र जायसवाल ने गुरुवार को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार गढ्ढामुक्त सड़कों की वास्तविकता जांचने के लिए पूरे प्रशासनिक अमले को सड़क पर चलकर आईना दिखाया।

विगत दिनों मंत्री रवीन्द्र जायसवाल ने मंडलीय सभागार में कमिश्नर व जिलाधिकारी के साथ बैठक में शहर की खराब सड़कों को तत्काल दुरुस्त किए जाने हेतु निश्चित समय देकर स्वयं मौके पर चलकर सड़कों की स्थिति जांचने के निर्देश दिया था।

जिसके पश्चात जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने शहर उत्तरी विधानसभा क्षेत्र में उपजिलाधिकारी व मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में चार टीमें गठित की थी।

उसी क्रम में आज गुरुवार को मंत्री रवीन्द्र जायसवाल ने सर्किट हाउस से एडीएम सिटी, एसीएम, पीडब्लूडी, नगर निगम के अधिकारियों के साथ सेंट्रल जेल रोड़ सिकरौल, भीम नगर, कुंज विहार, शिवपुर बाजार, अतुलनानंद बाईपास, भोजूबीर सिंधौरा रोड़, सब्जी मंडी भोजूबीर, सरसौली, मीरापुर बसही आदि क्षेत्रों का स्थलीय निरीक्षण किया।

मंत्री रविन्द्र जायसवाल ने बताया कि पीडब्लूडी और नगर निगम के आपसी तालमेल की कमी के कारण सिकरौल में अतिक्रमण का बहाना बनाकर नाली निर्माण नही कराकर ठेकेदारों को कार्य मे बिलंब का मौका दिया जा रहा है ताकि समय के साथ आगणन की धनराशि बढ़ाई जा सके

\, वही भोजूबीर सिंधौरा रोड़ पर सब्जी मंडी के निकट आईपीडीएस के द्वारा 8 माह पूर्व कार्य पूर्ण होने पर भी सड़क को नगर निगम के द्वारा बराबर नही किया गया, नगर निगम के अधिशासी अभियंता को 24 घंटे में बराबर करने को कहा।

वही मीरापुर बसही में बने गड्ढे को देखकर मंत्री रविन्द्र जायसवाल ने पीडब्ल्यू के सुग्रीव राम समेत सभी अधिकारियों को फटकार लगाई। उन्होंने कहा कि प्रवासी भारतीय दिवस के दौरान 80 लाख खर्च होने के बाद भी इतने बड़े गढ़े बने हैं,

जिसके निर्माण में निम्न गुणवत्ता की सामग्री प्रयोग की जा रही है, इसके साथ ही एडीएम सिटी को सभी की रिपोर्ट तैयार कर शासन को भेजने को कहा और स्पष्ट किया कि बहुत अकर्मण्यता हो चुकी है अब इन दोषी अधिकारियों को कार्यवाही के लिए तैयार रहना पड़ेगा।

निरीक्षण के दौरान मंत्री रविन्द्र जायसवाल के साथ दिनेश यादव पार्षद, सुनील सोनकर पार्षद, मैदान दुबे, जितेंद्र मिश्रा, अभिषेक मिश्रा, अरविंद सिंह पिंकू, महानगर आईटी विभाग से कुणाल आदि मौजूद रहे।

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *