Acid Thrown On New Married Couple While Sleeping Women Condition Critical – शादी से नाराज नवदंपती पर सोते समय फेंका तेजाब, दोनों झुलसे, विवाहिता की हालत गंभीर


प्रतीकात्मक तस्वीर
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

कोतवाली क्षेत्र के समसपुर खालसा गांव में शुक्रवार की रात सोते समय नवदंपती पर तेजाब फेंक दिया। इससे दोनों गंभीर रूप से झुलस गए हैं। विवाहिता का चेहरा पूरी तरह से झुलस गया है। लड़की के मामा ने अन्य लोगों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। आरोपी मामा अपनी भांजी की शादी से नाराज था। घटना के बाद अफरातफरी मच गई है। सूचना पर पुलिस ने पहुंचकर दंपती को पीएचसी पहुंचाया, जहां से प्राथमिक इलाज के बाद दोनों को जिला अस्पताल भेज दिया गया।

सलोन कोतवाली क्षेत्र के समसपुर खालसा निवासी शमीम अहमद की बेटी हिना बानो और फतेहपुर जिले के हथगवां थाना क्षेत्र के कोलवा हथगवा निवासी मो. अजीब के पुत्र मोहम्मद लतीफ दोनों एक दूसरे को पसंद करते थे। दोनों की शादी हिना के मामा रहमानी निवासी निजाम मई थाना सिराथू जनपद कौशांबी को मंजूर नहीं थी। बीती 10 जनवरी को मुंबई से लौटे लतीफ ने हिना के साथ मुस्लिम रीति रिवाज के हिसाब से निकाह कर लिया। 11 जनवरी को रायबरेली मुख्यालय पहुंचकर दोनों ने कोर्ट मैरिज भी कर ली। इस दौरान युवक पत्नी के साथ अपने ससुराल समसपुर खालसा आया था। शुक्रवार की रात लतीफ और हिना दोनों घर के अंदर सो रहे थे।

रात में दंपती के ऊपर फेंका तेजाब
रात्रि लगभग 12 बजे पीछे के रास्ते घर में घुसे मामा समेत अन्य लोगों ने दंपती के ऊपर तेजाब फेंक दिया। इससे दोनों दंपती गंभीर रूप से झुलस गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों घायलों को पीएचसी सलोन में भर्ती कराया। पीएचसी के डॉ. आशीष नायक का कहना है कि तेजाब की वजह से दंपती झुलसे हैं। विवाहिता का पूरा चेहरा झुलस गया है। प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को जिला अस्पताल भेजा गया है। कोतवाल पंकज त्रिपाठी ने बताया कि विवाहित के पिता शमीम अहमद ने तहरीर देकर आरोप लगाया है कि लड़की के मामा रहमानी और तीन चार अज्ञात लोगों ने उसकी लड़की और दामाद को जान से मार देने की नीयत से तेजाब फेंका है। एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

एएसपी ने मौके पर पहुंचकर की जांच
नवदंपती पर तेजाब फेंके जाने की घटना के बाद अपर पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव ने मौके पर पहुंचकर मामले की पड़ताल की। एएसपी ने पीड़ित परिवार के बयान दर्ज किए। परिवारजनों से धैर्य रखने के लिए कहा और भरोसा दिलाया कि मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी।

इसी माह की 10 जनवरी को दंपती ने विवाह किया था। लड़की का मामा इस शादी से नाराज था। इसी वजह से उसने घर में घुसकर नवदंपती पर तेजाब फेंका। अस्पताल में दोनों का इलाज किया जा रहा है। मामले में केस दर्ज कर लिया गया है। मामा समेत अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम लगाई गई है। -श्लोक कुमार, एसपी

बढ़ रही तेजाब की घटनाएं, पर कार्रवाई नहीं
रायबरेली जिले में तेजाब फेंकने की यह कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी कई घटनाएं हुई हैं, लेकिन हर बार पुलिस की कार्रवाई महज कागजों तक सीमित रही है। अमेठी जिले के जायस कोतवाली क्षेत्र के बड़ा शेखाना निवासी जगदीश प्रसाद की वर्ष 2013 में तेजाब डालकर हत्या कर दी गई थी। उसके बेटे ने ही घटना को अंजाम दिया था। दो साल पहले बीते 19 दिसंबर को हरचंदपुर थाना क्षेत्र के गंगागंज की रहने वाली दो सगी बहनों पर तेजाब डाल दिया गया था। इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं हो पाई थी।

अप्रैल 2014 में नसीराबाद और सलोन कोतवाली क्षेत्र में तेजाब फेंकने की घटना हुई थी। सलोन कोतवाली क्षेत्र में फिर नवदंपती पर तेजाब फेंक दिया, जिससे दोनों झुलस गई। समय-समय पर इस तरह की घटनाएं हुआ करती हैं, लेकिन इस पर कार्रवाई के नाम पर महज खानापूर्ति होती है।

कोतवाली क्षेत्र के समसपुर खालसा गांव में शुक्रवार की रात सोते समय नवदंपती पर तेजाब फेंक दिया। इससे दोनों गंभीर रूप से झुलस गए हैं। विवाहिता का चेहरा पूरी तरह से झुलस गया है। लड़की के मामा ने अन्य लोगों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। आरोपी मामा अपनी भांजी की शादी से नाराज था। घटना के बाद अफरातफरी मच गई है। सूचना पर पुलिस ने पहुंचकर दंपती को पीएचसी पहुंचाया, जहां से प्राथमिक इलाज के बाद दोनों को जिला अस्पताल भेज दिया गया।

सलोन कोतवाली क्षेत्र के समसपुर खालसा निवासी शमीम अहमद की बेटी हिना बानो और फतेहपुर जिले के हथगवां थाना क्षेत्र के कोलवा हथगवा निवासी मो. अजीब के पुत्र मोहम्मद लतीफ दोनों एक दूसरे को पसंद करते थे। दोनों की शादी हिना के मामा रहमानी निवासी निजाम मई थाना सिराथू जनपद कौशांबी को मंजूर नहीं थी। बीती 10 जनवरी को मुंबई से लौटे लतीफ ने हिना के साथ मुस्लिम रीति रिवाज के हिसाब से निकाह कर लिया। 11 जनवरी को रायबरेली मुख्यालय पहुंचकर दोनों ने कोर्ट मैरिज भी कर ली। इस दौरान युवक पत्नी के साथ अपने ससुराल समसपुर खालसा आया था। शुक्रवार की रात लतीफ और हिना दोनों घर के अंदर सो रहे थे।

रात में दंपती के ऊपर फेंका तेजाब

रात्रि लगभग 12 बजे पीछे के रास्ते घर में घुसे मामा समेत अन्य लोगों ने दंपती के ऊपर तेजाब फेंक दिया। इससे दोनों दंपती गंभीर रूप से झुलस गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों घायलों को पीएचसी सलोन में भर्ती कराया। पीएचसी के डॉ. आशीष नायक का कहना है कि तेजाब की वजह से दंपती झुलसे हैं। विवाहिता का पूरा चेहरा झुलस गया है। प्राथमिक उपचार के बाद दोनों को जिला अस्पताल भेजा गया है। कोतवाल पंकज त्रिपाठी ने बताया कि विवाहित के पिता शमीम अहमद ने तहरीर देकर आरोप लगाया है कि लड़की के मामा रहमानी और तीन चार अज्ञात लोगों ने उसकी लड़की और दामाद को जान से मार देने की नीयत से तेजाब फेंका है। एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

एएसपी ने मौके पर पहुंचकर की जांच

नवदंपती पर तेजाब फेंके जाने की घटना के बाद अपर पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव ने मौके पर पहुंचकर मामले की पड़ताल की। एएसपी ने पीड़ित परिवार के बयान दर्ज किए। परिवारजनों से धैर्य रखने के लिए कहा और भरोसा दिलाया कि मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी।

इसी माह की 10 जनवरी को दंपती ने विवाह किया था। लड़की का मामा इस शादी से नाराज था। इसी वजह से उसने घर में घुसकर नवदंपती पर तेजाब फेंका। अस्पताल में दोनों का इलाज किया जा रहा है। मामले में केस दर्ज कर लिया गया है। मामा समेत अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम लगाई गई है। -श्लोक कुमार, एसपी

बढ़ रही तेजाब की घटनाएं, पर कार्रवाई नहीं

रायबरेली जिले में तेजाब फेंकने की यह कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी कई घटनाएं हुई हैं, लेकिन हर बार पुलिस की कार्रवाई महज कागजों तक सीमित रही है। अमेठी जिले के जायस कोतवाली क्षेत्र के बड़ा शेखाना निवासी जगदीश प्रसाद की वर्ष 2013 में तेजाब डालकर हत्या कर दी गई थी। उसके बेटे ने ही घटना को अंजाम दिया था। दो साल पहले बीते 19 दिसंबर को हरचंदपुर थाना क्षेत्र के गंगागंज की रहने वाली दो सगी बहनों पर तेजाब डाल दिया गया था। इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं हो पाई थी।

अप्रैल 2014 में नसीराबाद और सलोन कोतवाली क्षेत्र में तेजाब फेंकने की घटना हुई थी। सलोन कोतवाली क्षेत्र में फिर नवदंपती पर तेजाब फेंक दिया, जिससे दोनों झुलस गई। समय-समय पर इस तरह की घटनाएं हुआ करती हैं, लेकिन इस पर कार्रवाई के नाम पर महज खानापूर्ति होती है।



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *