Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Another close aide of Captain, Rana Randhawa removed from the chair of Kartarpur Improvement Trust chairman; Was opposing Pargat Singh | करतारपुर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट चेयरमैन की कुर्सी से हटाए गए राणा रंधावा; परगट सिंह का कर रहे थे विरोध


  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Another Close Aide Of Captain, Rana Randhawa Removed From The Chair Of Kartarpur Improvement Trust Chairman; Was Opposing Pargat Singh

जालंधरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
करतारपुर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट चेयरमैन की कुर्सी से हटाए गए राणा रंधावा। - Dainik Bhaskar

करतारपुर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट चेयरमैन की कुर्सी से हटाए गए राणा रंधावा।

पंजाब की नई बनी सीएम चरणजीत चन्नी सरकार ने कैप्टन अमरिंदर सिंह के एक और करीबी की छुट्‌टी कर दी है। करतारपुर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के चेयरमैन राणा रंधावा को हटा दिया गया है। उनकी जगह पर अब नितिन अग्रवाल को चेयरमैन बनाया गया है। राणा रंधावा कैप्टन के खासमखास थे। पंजाब कांग्रेस में जब कलह मची तो वो खुलकर कैप्टन के समर्थन में खड़े हुए थे ।उन्होंने जालंधर कैंट से विधायक परगट सिंह का विरोध किया था।

परगट के विधानसभा क्षेत्र में उन्होंने कैप्टन के समर्थन में बोर्ड तक लगवा दिए थे। उस वक्त परगट सिंह का कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ छत्तीस का आंकड़ा था। कैप्टन अमरिंदर सिंह को CM की कुर्सी से हटाने के बाद अब हालात बदल गए हैं। परगट सिंह पंजाब सरकार में शिक्षा और खेल मंत्री बन गए हैं। परगट की ताकत बढ़ते ही राणा रंधावा को हटा दिया गया। राणा कैप्टन से परगट के खराब रिश्तों को देख जालंधर कैंट से टिकट के भी दावेदार थे।

सिद्धू ने दिनेश बस्सी को हटवाकर दमनदीप उप्पल को चेयरमैन लगवाया था।

सिद्धू ने दिनेश बस्सी को हटवाकर दमनदीप उप्पल को चेयरमैन लगवाया था।

पहले सिद्धू ने कराई छुट्‌टी
शुरूआत में नवजोत सिद्धू ने कैप्टन के करीबियों की छुट्‌टी कराई थी। सिद्धू ने अमृतसर इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के चेयरमैन दिनेश बस्सी को हटा दिया था। उनकी जगह पर दमनदीप उप्पल को ट्रस्ट का चेयरमैन बना दिया गया था। पहले भी सिद्धू दमन को चेयरमैन बनाना चाहते थे लेकिन कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बस्सी को यह कुर्सी सौंप दी थी।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *