Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Arjun Singh: West Bengal Violence Latest Update| Dilip Ghosh On TMC After Bomb Attack on BJP MP Arjun Singh’s House | बंगाल के बैरकपुर से सांसद अर्जुन सिंह के घर पर क्रूड बम से हमला, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष बोले- TMC ने करवाया


  • Hindi News
  • National
  • Arjun Singh: West Bengal Violence Latest Update| Dilip Ghosh On TMC After Bomb Attack On BJP MP Arjun Singh’s House

कोलकाताएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद भी हिंसा की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है। पश्चिम बंगाल में BJP सांसद अर्जुन सिंह के घर पर बुधवार सुबह 6.30 बजे क्रूड बम से हमला हुआ।

बताया जा रहा है कि बम फेंकने वाले 3 आरोपी बाइक पर सवार होकर आए थे। अर्जुन बंगाल की बैरकपुर लोकसभा सीट से सांसद हैं। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने बमबारी की घटना पर चिंता जाहिर की है। उन्होंने कहा है कि इस तरह की घटनाओं से राज्य की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े होते हैं।

बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने घटना के लिए तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है। घटना के बाद पहुंची पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस CCTV फुटेज के जरिए आरोपियों की पहचान करने की कोशिश कर रही है। घटना के बाद सांसद के घर के सामने बड़ी तादाद में सुरक्षाबलों को तैनात कर दिया गया है।

बंगाल चुनाव के बाद भी हुई थी हिंसा
बंगाल में 2 मई को चुनाव के नतीजे आए थे। इसके बाद राज्य में हिंसा के कई मामले सामने आए थे। इसमें करीब 20 लोगों की मौत हुई थी। हिंसा की जांच के लिए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) का एक दल बंगाल गया था और कलकत्ता हाईकोर्ट में रिपोर्ट सब्मिट की थी।आयोग ने हिंसा को लेकर अदालत से कहा था कि बंगाल में कानून का शासन नहीं, बल्कि शासक का कानून चलता है। बंगाल हिंसा के मामलों की जांच राज्य से बाहर की जानी चाहिए।

ममता ने रिपोर्ट लीक करने पर ऐतराज जताया था
चुनाव के बाद बंगाल में हुई हिंसा पर 13 जुलाई को कोर्ट में पेश की गई थी। रिपोर्ट के कुछ न्यूज चैनल और वेबसाइट्स पर खुलासे के बाद ममता बनर्जी ने ऐतराज जाहिर किया था। ममता ने कहा था कि आयोग को न्यायपालिका का सम्मान करना चाहिए और इस रिपोर्ट को लीक नहीं किया जाना चाहिए। इस रिपोर्ट को केवल कोर्ट के सामने रखना चाहिए था।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *