Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Arvind Trivedi passed away: Arvind Trivedi, who played the role of Ravana in ‘Ramayana’, died at 83, was ill for the last two-three days | ‘रामायण’ में रावण का किरदार निभाने वाले अरविंद त्रिवेदी का 83 साल की उम्र में निधन, पिछले दो-तीन दिनों से बिगड़ी हुई थी तबियत


  • Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • Arvind Trivedi Passed Away: Arvind Trivedi, Who Played The Role Of Ravana In ‘Ramayana’, Died At 83, Was Ill For The Last Two three Days

एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
अरविंद त्रिवेदी - Dainik Bhaskar

अरविंद त्रिवेदी

टेलीविजन के सबसे लोकप्रिय शो रामायण में लंकाधिपति रावण का किरदार निभा चुके एक्टर और पूर्व सांसद अरविंद त्रिवेदी का 5 अक्टूबर की देर रात निधन हो गया। एक्टर की मौत की खबर उनके करीबी रिश्तेदार ने कन्फर्म की है। अरविंद त्रिवेदी की उम्र 83 साल थी।

अरविंद त्रिवेदी के भतीजे कौस्तुभ त्रिवेदी ने उनके निधन के खबर को कन्फर्म करते हुए कहा, ‘आज (5 अक्टूबर) 10 बजे उनका निधन हो गया है। पिछले 2-3 दिनों से उनकी तबियत खराब चल रही थी, हालांकि उन्हें कोई बड़ी बीमारी नहीं थी।’

अरविंद त्रिवेदी।

अरविंद त्रिवेदी।

पिछले एक साल से उड़ रही थीं अरविंद त्रिवेदी की मौत की अफवाहें

इस साल मई में अरविंद त्रिवेदी के निधन की खबरें सामने आई थीं, जिन पर उनके भतीजे कौस्तुभ ने इसे अफवाह बताते हुए विराम लगा दिया था। इसके अलावा रामायण में लक्ष्मण का रोल प्ले करने वाले सुनील लहरी ने इन अफवाहों पर भड़कते हुए सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर की थी।

बता दें कि अरविंद त्रिवेदी का जन्म मध्यप्रदेश के उज्जैन शहर में हुआ। उनका करियर गुजराती रंगमंच से शुरू हुआ। एक्टर के भाई उपेंद्र त्रिवेदी गुजराती सिनेमा का चर्चित नाम रहे हैं और गुजराती फिल्मों में एक्टिंग कर चुके हैं। हिंदी के पॉपुलर शो रामायण से घर-घर पहचान बनाने वाले लंकेश यानी अरविंद त्रिवेदी ने लगभग 300 हिंदी और गुजराती फिल्मों में अभिनय किया है।

गुजराती भाषा की धार्मिक और सामाजिक फिल्मों से उन्हें गुजराती दर्शकों में पहचान मिली थी जहां उन्होंने 40 वर्षों तक योगदान दिया। त्रिवेदी ने गुजरात सरकार द्वारा प्रदान की गई गुजराती फिल्मों में सर्वश्रेष्ठ अभिनय के लिए सात पुरस्कार जीते थे। 2002 में उन्हें केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में नामित किया गया था। अरविंद त्रिवेदी ने 20 जुलाई 2002 से 16 अक्टूबर 2003 तक सीबीएफसी प्रमुख के रूप में काम किया।

एक्टिंग के अलावा अरविंद साल 1991 से लेकर 1996 तक सांसद रहे

1991 में, अरविंद त्रिवेदी भारतीय जनता पार्टी के सदस्य के रूप में साबरकथा निर्वाचन क्षेत्र से संसद सदस्य के रूप में चुने गए और 1996 तक इस पद पर रहे।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *