Chhattisgarh Update, Kisan Andolan Chakka Jam News Update; Farmers Protest In Raipur Against Agricultural Law | छत्तीसगढ़ में नेशनल हाईवे और स्टेट हाईवे पर किसान संगठन रोकेंगे रास्ता; शहरों में असर नहीं, लेकिन दूसरे जिले गए तो फंसेंगे


  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Chhattisgarh Update, Kisan Andolan Chakka Jam News Update; Farmers Protest In Raipur Against Agricultural Law

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बिलासपुर/भिलाईएक मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
यह तस्वीर दो माह पुरानी छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की है। किसान आंदोलन के समर्थन मे तब ट्रेड यूनियन ने राष्ट्रव्यापारी प्रदर्शन और चक्काजाम किया था। - Dainik Bhaskar

यह तस्वीर दो माह पुरानी छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की है। किसान आंदोलन के समर्थन मे तब ट्रेड यूनियन ने राष्ट्रव्यापारी प्रदर्शन और चक्काजाम किया था।

  • प्रदेश में किसानों के चक्काजाम को कांग्रेस का भी समर्थन, 25 से ज्यादा जगहों पर करेंगे प्रदर्शन
  • रायपुर और दुर्ग में पुलिस की तैयारी, बाकी जगह स्थिति को देखकर पुलिस करेगी निर्णय

केंद्रीय कृषि कानून के विरोध में रायपुर सहित छत्तीसगढ़ में किसान प्रदर्शन करेंगे। इस दौरान दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक स्टेट हाईवे और नेशनल हाईवे को जाम रखा जाएगा। इसके अलावा सभी ब्लॉक मुख्यालयों पर भी प्रदर्शन होगा। हालांकि इस बंद कर असर शहरों में नहीं पड़ेगा, लेकिन एक से दूसरे जिले में गए तो रास्ते में फंसेंगे। इसका बड़ा कारण यह है कि रायपुर और दुर्ग को छोड़कर बाकी जगहों पर पुलिस की कोई खास तैयारी नहीं है।

किसान संगठनों के अनुसार, प्रदेश में 25 जगहों पर चक्काजाम होगा। इस दौरान इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर शेष वाहनों के आवागमन को पूरी तरह से रोकेंगे। संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से किए जा रहे इस प्रदर्शन को प्रदेश की कांग्रेस सरकार सहित ट्रेड संगठनों ने भी अपना समर्थन दिया है। पुलिस और प्रशासन की ओर से कुछ खास तैयारी नहीं की गई है। अफसरों को कहना है कि ऊपर से जैसे आदेश मिलेंगे, उसके अनुसार काम होगा।

रायपुर : रसनी टोल नाके और बोरियाखुर्द में सड़क रोकने की तैयारी
किसान संगठनों की ओर से रायपुर में आरंग रोड पर रसनी के पुराने टोल नाका और पुराने धमतरी रोड पर बोरियाखुर्द के पास सड़क रोकने की तैयारी है। किसान संगठनों का इरादा दोपहर 12 बजे के बाद से सड़कों पर जमा होकर दिल्ली की सीमाओं पर सवा दो महीने से चल रहे किसान आंदोलन को समर्थन देना है। इसमें जनसंगठन और नागरिक संगठओं के साथ रंगकर्म, कला, साहित्य से जुड़े संगठनों के कार्यकर्ता भी शामिल होंगे।

बिलासपुर : रायपुर, कोरबा, अंबिकापुर, मुंगेली से आने वाला रूट रहेगा बंद
जिले के नेहरू चौक पर सड़क सत्याग्रह किया जाएगा। इससे पहले कांग्रेस भवन में कार्यकर्ता जुटेंगे। नेहरू चौक के पास जाम होने से रायपुर, कोरबा, अंबिकापुर, मुंगेली से आने वाला रूट पूरी तरह बाधित रहेगा। रतनपुर, बिल्हा, मस्तुरी और अन्य ब्लॉक मुख्यालय पर प्रदर्शन के चलते शहर में भी वाहन प्रवेश नहीं कर सकेंगे। एडिशनल एसपी संजय ध्रुव ने बताया कि रूट डायवर्ट नहीं किया गया है। ऊपर से जो आदेश है, उसका पालन कर रहे हैं।

दुर्ग : नेशनल हाईवे पर 7 जगह बाधित रहेगा मार्ग, रायपुर मार्ग सबसे ज्यादा प्रभावित
किसानों के समर्थन में दुर्ग जिले में नेशनल हाईवे 7 स्थानों पर बाधित रहेगा। इसमें अंजोरा बाईपास, कोसानाला, सिरसागेट, कांजी हाउस कुम्हारी, नंदिनी में पथरिया मोड़,धमधा बस स्टैंड और फुण्डा मोड़,जामगांव में चक्काजाम होगा। नेशनल हाईवे-53 में अंजोरा से कुम्हारी तक भारी/मध्यम वाहनों का आवागमन पुलिस ने पूरी तरह से 3 घंटे के लिए बंद रखने का निर्णय लिया है। बंद को देखते हुए पुलिस-प्रशासन की ओर से वाहनों के आवागमन के लिए वैकल्पिक व्यवस्था की गई है।

  • अंजोरा बाईपास से रायपुर जाने वाले दो पहिया व चार पहिया वाहन दुर्ग शहर होते हुए सेक्टर एरिया से उतई-फूण्डा-मोतीपुर-अमलेश्वर मार्ग का प्रयोग करेंगे।
  • दुर्ग शहर व नेहरू नगर से रायपुर जाने वाले दो पहिया व चार पहिया वाहन नेहरू नगर ओवर ब्रिज व अंडर ब्रिज का प्रयोग करते हुए सेक्टर एरिया से उतई-फूण्डा-मोतीपुर-अमलेश्वर मार्ग पर निकलेंगे।
  • कैंप, जामुल, खुर्सीपार व सेक्टर एरिया से रायपुर जाने वाले दो पहिया व चार पहिया वाहन उतई-फूण्डा-मोतीपुर-अमलेश्वर से जाएंगे।
  • भिलाई -3 से रायपुर जाने वाले दो पहिया व चार पहिया वाहन कुम्हारी चौक से मुरमुंदा से सिलतरा रायपुर या उरला- करुदडीह-मोतीपुर-अमलेश्वर मार्ग का प्रयोग करेंगे।
  • इसी प्रकार रायपुर से आने वाले वाहन अमलेश्वर- मोतीपुर- उतई-फूण्डा-उतई मार्ग या बिरगांव-मुरमुंदा -जामुल-कोहका कुरूद-जुनवानी मार्ग का प्रयोग करेंगे।

बस्तर, धमतरी, अंबिकापुर, बालोद, महासमुंद, राजनांदगांव, कोरबा में भी प्रदर्शन की तैयारी
इसके अलावा कांग्रेस और किसान संगठनों ने बस्तर, धमतरी, अंबिकापुर, बालोद, महासमुंद, राजनांदगांव, कोरबा में भी प्रदर्शन की तैयारी की है। हालांकि इन जिलों में अभी प्रदर्शन का कुछ खास तैयारियां देखने को नहीं मिल रही है। पुलिस की ओर से कहा जा रहा है कि जैसा आगे होगा, उसके अनुसार और ऊपर से मिले आदेश को देखते हुए निर्णय लेंगे। वहीं बस्तर और धमतरी में किसान आंदोलन का कुछ खास असर फिलहाल नहीं है।



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *