Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

China India Border Tension | Chinese Newspaper Global Times; India Army and PLA Disengagement at Pangong Lake | ग्लोबल टाइम्स ने कहा- भारत और चीन की सेना ने पैगॉन्ग लेक के दक्षिणी और उत्तरी इलाके से हटना शुरू किया


  • Hindi News
  • National
  • China India Border Tension | Chinese Newspaper Global Times; India Army And PLA Disengagement At Pangong Lake

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बीजिंग8 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
अखबार के मुताबिक, मिलिट्री कमांडर लेवल की 9वें दौर की बातचीत में डिसइंगेजमेंट पर सहमति बनी थी। बुधवार से इस पर अमल शुरू हो गया। - Dainik Bhaskar

अखबार के मुताबिक, मिलिट्री कमांडर लेवल की 9वें दौर की बातचीत में डिसइंगेजमेंट पर सहमति बनी थी। बुधवार से इस पर अमल शुरू हो गया।

चीनी मीडिया ने दावा किया है कि पैगॉन्ग लेक के दक्षिणी और उत्तरी इलाके से भारत-चीन की सेना ने डिसइंगेजमेंट की प्रोसेस शुरू कर दी है। सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने बुधवार को सोशल मीडिया पर यह दावा किया। अखबार के मुताबिक, मिलिट्री कमांडर लेवल की 9वें दौर की बातचीत में डिसइंगेजमेंट पर सहमति बनी थी। योजना के मुताबिक, बुधवार से इस पर अमल शुरू हो गया।

पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन की सेनाओं के बीच 9वें राउंड की बातचीत मोल्दो में 15 घंटे चली थी। इसमें भारत ने कहा था कि विवाद वाले इलाकों से सैनिक हटाने और तनाव कम करने के प्रोसेस को आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी अब चीन पर है।

चीन और भारत की सेनाएं पूर्वी लद्दाख में पिछले साल अप्रैल-मई से आमने-सामने हैं। दोनों देशों के विदेश मंत्री और रक्षामंत्री भी इस मसले पर बात कर चुके हैं। दोनों देशों ने लद्दाख के कुछ इलाकों से सेना हटाने पर सहमति जताई थी। इसके बावजूद सीमा विवाद का कोई हल नहीं निकल पाया।

20 जनवरी को हुई थी झड़प
बीती 20 जनवरी को दोनों देशों के सैनिकों में झड़प हुई थी। भारतीय सेना ने बताया था कि सिक्किम के नाकु ला में दोनों देशों के सैनिक आमने-सामने हुए थे। दोनों सेना के कमांडर्स ने तय प्रोटोकॉल के मुताबिक विवाद सुलझा लिया।

सूत्रों के मुताबिक चीन ने LAC पर घुसपैठ की कोशिश की थी। भारतीय जवानों ने रोका तो चीनी सैनिकों ने हाथापाई शुरू कर दी। भारतीय सेना ने इसका जवाब देते हुए चीन के सैनिकों को खदेड़ दिया। झड़प में चीन के 20 सैनिक घायल हो गए। भारत के भी 4 जवान जख्मी हुए थे। हालांकि, सेना ने किसी के घायल होने की जानकारी नहीं दी।

8 जनवरी को चीनी सैनिक पकड़ा गया था
8 जनवरी को चीन के एक सैनिक को भारतीय सीमा में घुसने के बाद हिरासत में ले लिया गया था। घटना पूर्वी लद्दाख के पैगॉन्ग त्सो लेक के दक्षिणी हिस्से की थी। भारत ने 2 दिन बाद चीनी सैनिक को लौटा दिया था। चीन ने सफाई दी थी कि उसका सैनिक गलती से भारतीय इलाके में चला गया। इससे पहले अक्टूबर में भी चीन के सैनिक ने भारतीय सीमा में घुसपैठ की थी।

पिछले साल जून से तनाव बरकरार
भारत-चीन के बीच पिछले साल अप्रैल से तनाव बना हुआ है। जून 2020 में गलवान में दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुई झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे। चीन के भी 40 से ज्यादा सैनिक मारे गए थे, हालांकि उसने कभी कबूल नहीं किया।



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *