Coronavirus Pandemic Country Wise Cases LIVE Update; USA Pakistan China Brazil Russia France Spain Recovery Rate Covid 19 Cases | अमेरिका में फाइजर वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी, ट्रम्प बोले- 24 घंटे के अंदर पहले नागरिक को टीका लगेगा


  • Hindi News
  • International
  • Coronavirus Pandemic Country Wise Cases LIVE Update; USA Pakistan China Brazil Russia France Spain Recovery Rate Covid 19 Cases

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वॉशिंगटन6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • दुनिया में अब तक 7.14 करोड़ से ज्यादा संक्रमित, 16.00 लाख मौतें हो चुकीं, 4.96 करोड़ स्वस्थ
  • अमेरिका में संक्रमितों का आंकड़ा 1.62 करोड़ से ज्यादा, अब तक 3.02 लाख लोगों ने गंवाई जान

दुनिया में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 7.14 करोड़ के ज्यादा हो गया। 4 करोड़ 96 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक 16 लाख से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं। अमेरिका ने शनिवार को फाइजर-बायोएनटेक की कोरोना वैक्सीन के इमरजेंसी में इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन ने यह मंजूरी दी है। इसकी एक सहयोगी संस्था ने शुक्रवार को वैक्सीन को जल्द मंजूरी देने की अपील की थी। अमेरिका ही नहीं मैक्सिको ने भी इसी वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। ब्रिटेन और कनाडा पहले ही यह कदम उठा चुके हैं।

ट्रम्प ने कहा- 24 घंटे में पहले मरीज को वैक्सीन लगेगी
FDA द्वारा वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी देने के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प सामने आए। उन्होंने कहा- आज मेरे पास वास्तव में बहुत अच्छी खबर है। आज हमारे देश ने मेडिकल में चमत्कार दिखाया। हमने सिर्फ 9 महीने में सेफ और इफेक्टिव वैक्सीन तैयार कर ली है। यह विज्ञान के इतिहास में बेहतरीन कामयाबी है। इससे लाखों लोगों की जिंदगी बचाई जा सकेगी और यह जल्द ही इस महामारी को भी खत्म कर देगी। मुझे यह बताते हुए बेहद खुशी है कि FDA ने फाइजर वैक्सीन को मंजूरी दे दी है। हमने फाइजर और दूसरी कंपनियों को काफी पैसा दिया है। यह उसी का नतीजा है। हमने वैक्सीन की शिपिंग भी शुरू कर दी है। पहले अमेरिकी को 24 घंटे से भी कम वक्त में वैक्सीनेट किया जाएगा।

अमेरिका के लास एंजिलिस शहर के एक हॉस्पिटल में संक्रमितों के लिए बेड कम पड़ गए। अब यहां एक टेंट लगाकर मेकशिफ्ट हॉस्पिटल तैयार किया गया है। यहीं संक्रमितों की जांच की जा रही है और इसके दूसरे हिस्से में उनका इलाज किया जा रहा है।

अमेरिका के लास एंजिलिस शहर के एक हॉस्पिटल में संक्रमितों के लिए बेड कम पड़ गए। अब यहां एक टेंट लगाकर मेकशिफ्ट हॉस्पिटल तैयार किया गया है। यहीं संक्रमितों की जांच की जा रही है और इसके दूसरे हिस्से में उनका इलाज किया जा रहा है।

अब मैक्सिको में भी वैक्सीन
मैक्सिको में फाइजर-बायोएनटेक कंपनी की कोरोना वैक्सीन को मंजूरी दे दी गई है। हेल्थ मिनिस्ट्री ने शुक्रवार रात जारी बयान में कहा- हमारे हेल्थ रेग्युलेटर ने कई दिनों के परीक्षण के बाद यह तय किया है कि इस वैक्सीन का इस्तेमाल इमरजेंसी में किया जा सकता है। लिहाजा, फिलहाल हम इसका इस्तेमाल शुरू कर रहे हैं। बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन कब शुरू होगा, इस बारे में जानकारी जल्द दी जाएगी। कुछ जरूरी कदम और उठाए जाने हैं। इसके बाद ही इस बारे में कोई अंतिम निर्णय किया जाएगा।

मैक्सिको सिटी में एक हॉस्पिटल में काम करता हेल्थ वर्कर। यहां सरकार ने फाइजर वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है।

मैक्सिको सिटी में एक हॉस्पिटल में काम करता हेल्थ वर्कर। यहां सरकार ने फाइजर वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है।

WHO की वॉर्निंग
अमेरिका के बाद अब WHO ने भी क्रिसमस पार्टीज और सेलिब्रेशन को लेकर चेतावनी जारी की है। संगठन ने शुक्रवार को जारी बयान में कहा- अगर क्रिसमस के दौरान हमने लापरवाही बरती तो यह तय मानिए कि हम मुश्किल में पड़ सकते हैं और खुशी के बदले हमें दुख का सामना करना पड़ सकता है। संगठन के प्रमुख टेड्रोस गेब्रयेसस ने कहा- हमें यह याद रखना चाहिए कि कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। इसलिए यह जरूरी है कि फेस्टिव सीजन में हम बेहद सावधान रहें।

ब्राजील में रिइन्फेक्शन वाले केसों की जांच होगी
ब्राजील में 58 ऐसे संदिग्ध मरीज मिले हैं जिन्हें कथित तौर पर दूसरी बार संक्रमण हुआ। अब सरकार ने कहा है कि यह हालात क्यों बने, इसकी जांच की जाएगी। हेल्थ मिनिस्ट्री ने एक बयान में कहा- अब तक यह साफ नहीं हो सका कि वास्तव में ये लोग दूसरी बार संक्रमित हुए या फिर इनका संक्रमण ठीक ही नहीं हुआ था। दो मामलों पर खासतौर पर नजर है। इसमें एक 37 साल का पुरुष और इतनी ही उम्र की एक महिला है। यह नटाल शहर के रहने वाले हैं। इन्हें पहली बार जून और फिर अक्टूबर में पॉजिटिव पाया गया। दोनों संक्रमणों के बीच 116 दिन का अंतर था। अब इन मामलों की जांच की जा रही है।

जर्मनी में सख्ती की तैयारी
फ्रांस ने 6 हफ्ते के सख्त लॉकडाउन के बाद हालात संभाले और दो हफ्ते पहले जहां हर दिन 50 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे थे, इन्हें 10 या 11 हजार तक सीमित कर लिया। लोगों ने सरकार का सहयोग भी किया। अब जर्मनी की एंजेला मर्केल सरकार बर्लिन से पाबंदियों की शुरुआत करने जा रही है। यहां सोमवार से सभी दुकानें यानी बाजार बंद किए जा सकते हैं। स्कूलों की छुट्टियां बढ़ाई जा सकती हैं। मेयर माइकल मुलर ने इसकी पुष्टि की है। माना जा रहा है कि शुरुआत में प्रतिबंध दो हफ्ते के लिए लगाए जाएंगे। सरकार लॉकडाउन शब्द से परहेज कर रही है।

कोरोना प्रभावित टॉप-10 देशों में हालात

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 16,295,458 302,750 9,507,419
भारत 9,827,026 142,662 9,323,792
ब्राजील 6,836,313 180,453 5,954,745
रूस 2,597,711 45,893 2,059,840
फ्रांस 2,351,372 57,567 175,891
ब्रिटेन 1,809,455 63,506 N/A
इटली 1,805,873 63,387 1,052,163
तुर्की 1,780,673 15,977 1,154,333
स्पेन 1,741,439 47,624 N/A
अर्जेंटीना 1,489,328 40,606 1,324,792

(आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं)



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *