Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Deepak Nehra of Nindana won the bronze medal in the Junior World Championship 97 kg weight category held in Rohtak, Russia. | 97 किलो भार वर्ग में निंदाना के दीपक नेहरा ने जीता ब्रॉन्ज मेडल, 20 को पहुंचेगा दिल्ली एयरपोर्ट; पलकों पर बिठाने को गांव तैयार


  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Deepak Nehra Of Nindana Won The Bronze Medal In The Junior World Championship 97 Kg Weight Category Held In Rohtak, Russia.

रोहतक36 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
रूस में हुई जूनियर वर्ल्ड कुश्ती चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाले रोहतक जिले के गांव निंदाना निवासी दीपक नेहरा। - Dainik Bhaskar

रूस में हुई जूनियर वर्ल्ड कुश्ती चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाले रोहतक जिले के गांव निंदाना निवासी दीपक नेहरा।

रोहतक जिले के गांव निंदाना निवासी दीपक नेहरा ने रूस में हुई जूनियर वर्ल्ड कुश्ती चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीता है। दीपक ने 97 किलो भार वर्ग में यह मुकाबला लड़ा है, जिसमें उन्होंने हंगरी के खिलाड़ी को हराकर मेडल देश के नाम किया है। अब इस जीत के बाद दीपक के पूरे गांव में खुशी की लहर है और उसके स्वागत की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं।

परिवार और ग्रामीणों के मुताबिक दीपक की बचपन से ही खेलों में रुचि है। 6 साल की उम्र में वह अखाड़े में दांव आजमाने लग गए थे। दीपक के पिता सुरेंद्र गांव में खेती करते हैं। इससे पहले दीपक नेशनल खेल चुका है। अब वह रूस में हुई जूनियर वर्ल्ड कुश्ती चैम्पियनशिप में खेलने के लिए गए हुए थे।

रूस में जीत का सफर

दीपक नेहरा ने अपने अभियान की शुरुआत बेलारूस के एलियाकसेई के खिलाफ 5-1 की जीत के साथ की। फिर जॉर्जिया के लुका खुतचुआ को 9-4 से हराया। इसके बाद सोमवार को सेमीफाइनल में अमेरिका के ब्रेक्सटन से 1-9 से हार मिली। फिर वह कांस्य पदक के लिए मुकाबले में उतरे। इस मुकाबले में दीपक ने हंगरी के पहलवान को हराकर आखिर ब्रॉन्ज मेडल जीत ही लिया।

पिता बोले-मेहनत का मिला पहला फल, अभी और बहाना है पसीना
किसान पिता सुरेंद्र नेहरा ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि उनके बेटे को उसकी मेहनत का पहला फल मिल गया है। मगर अभी और पसीना बहाना है। दीपक व पिता सुरेंद्र सहित परिवार के तमाम लोग उसे ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व करते व पदक जीतते हुए देखना है। पिता ने बताया कि दीपक को 6 साल की उम्र में ही हिसार स्थित मिर्चपुरा की शहीद भगत सिंह अकादमी में पहलवानी के लिए छोड़ दिया था।

ये हैं उपलब्धियां

  • पांच से अधिक बार नेशनल स्तर पर गोल्ड
  • 2 बार खेलो इंडिया में गोल्ड
  • दो बार अंडर 17 में गोल्ड
  • एक बार जूनियर में गोल्ड

20 को दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचेगा म्हारा स्टार

दीपक की इस उपलब्धि पर अकादमी संचालक एवं कोच अजय व जयभगवान लाठर ने उसे 51 हजार रुपए का नकद पुरुस्कार देने की घोषणा भी की। इस बारे में नेहरा खाप युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष संदीप नेहरा ने बताया कि गांव में आने के बाद पूरे उत्साह के साथ दीपक का स्वागत किया जाएगा। वहीं कोच अजय ने बताया कि दीपक बहुत ही मेहनती है। जिसके बल पर ही उसे कांस्य पदक हासिल हुआ है। 20 को दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचेगा, वहां से आगे की रणनीति तय की जाएगी।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *