Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Delhi Rohini Court Firing; Gangster Jitendra Gogi Killed By Tillu Tajpuriya | All You Need To Know | छात्र संघ चुनाव से शुरू हुई थी गोगी और टिल्लू गैंग के बीच दुश्मनी, खूनी खेल में अब तक गई 24 लोगों की जान


  • Hindi News
  • National
  • Delhi Rohini Court Firing; Gangster Jitendra Gogi Killed By Tillu Tajpuriya | All You Need To Know

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार को हुए गैंगवार में दिल्ली-हरियाणा का बड़ा गैंगस्टर जितेंद्र गोगी मारा गया। इस गैंगवार के पीछे जितेंद्र गोगी के कभी खास रहे टिल्लू ताजपुरिया का हाथ बताया जा रहा है। गोगी और टिल्लू के बीच 2010 में एक छात्र संघ चुनाव के दौरान दुश्मनी शुरू हुई थी। इसके बाद से दोनों गैंग के बीच अब तक कई बार गैंगवार हो चुकी है। इसमें 24 से ज्यादा अपराधी मारे जा चुके हैं। आज इसी गैंगवार की भेंट खुद गोगी चढ़ गया।

टिल्लू ताजपुरिया गैंग का वर्चस्व बढ़ा
जितेंद्र गोगी के मर्डर के बाद बाहरी दिल्ली में टिल्लू ताजपुरिया गैंग का वर्चस्व बढ़ने की आशंका है। बताया जा रहा है कि गोगी और टिल्लू कभी जिगरी दोस्त थे। 2010 में बाहरी दिल्ली के एक छात्र संघ चुनाव में हुई कहासुनी ने दोनों के बीच दुश्मनी की लकीर खींच दी। उसके बाद दोनों गैंग कई बार आमने-सामने हो चुके हैं।

टिल्लू ताजपुरिया अभी तिहाड़ से ही गैंग ऑपरेट कर रहा है।

टिल्लू ताजपुरिया अभी तिहाड़ से ही गैंग ऑपरेट कर रहा है।

कुख्यात गैंगस्टर नीतू दाबोदिया 2013 में पुलिस एनकाउंटर में मारा गया। नीरज बवानिया भी जेल चला गया। नीरज खुद को दिल्ली का डॉन बताता था। इसके बाद गोगी और टिल्लू के बीच वर्चस्व की जंग तेज हो गई। करीब 7 साल से आउटर, रोहिणी, नॉर्थ वेस्ट, आउटर नॉर्थ जिले दोनों की गैंगवार का दंश झेल रहे हैं। टिल्लू भी तिहाड़ से ही गैंग ऑपरेट कर रहा है। अब जितेंद्र गोगी भी गैंगवार में मारा गया है और इसमें टिल्लू ताजपुरिया गैंग का ही हाथ माना जा रहा है।

हरियाणवी सिंगर और डांसर हर्षिता दहिया का पानीपत में मर्डर
गोगी को अप्रैल में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण कानून (मकोका) के तहत गिरफ्तार किया था। फरवरी 2017 में उसने अलीपुर के देवेंद्र प्रधान की हत्या कर दी, क्योंकि प्रधान का बेटा उसके सहयोगी निरंजन की हत्या में शामिल था। गोगी ने ही अक्टूबर 2017 में पानीपत में हरियाणवी सिंगर और डांसर हर्षिता दहिया की हत्या की थी।

गोगी ने हरियाणवी सिंगर और डांसर हर्षिता दहिया की पानीपत में अक्टूबर 2017 में हत्या कर दी।

गोगी ने हरियाणवी सिंगर और डांसर हर्षिता दहिया की पानीपत में अक्टूबर 2017 में हत्या कर दी।

हर्षिता दहिया अपने जीजा दिनेश कराला के खिलाफ दर्ज एक हत्या के मामले में मुख्य गवाह थी। दिनेश कराला ने ही हर्षिता दहिया की सुपारी गोगी को दी थी। वहीं गोगी के गैंग ने नवंबर में स्कूल के बाहर एक टीचर दीपक की और जनवरी 2021 में प्रशांत विहार में रवि भारद्वाज नाम के व्यक्ति की हत्या कर दी थी। रवि को 25 गोलियां मारी गई थीं।

जून 2018 में बुराड़ी में टिल्लू गैंग से हुई गैंगवार में 4 लोग मारे गए और 5 जख्मी हुए। नरेला में अक्टूबर 2019 में आम आदमी पार्टी के नेता वीरेंद्र मान उर्फ कालू को 26 गोलियां मार मौत के घाट उतार दिया। इस साल 19 फरवरी को रोहिणी के कंझावला में आंचल उर्फ पवन की 50 राउंड फायरिंग कर हत्या की गई। इन मामलों में भी गोगी गैंग का ही नाम सामने आया था।

पुलिस कस्टडी से 3 बार हुआ फरार

जुलाई 2016 में कोर्ट ले जाने के दौरान हरियाणा रोडवेज की बस से गोगी को उसके साथी छुड़ा ले गए थे।

जुलाई 2016 में कोर्ट ले जाने के दौरान हरियाणा रोडवेज की बस से गोगी को उसके साथी छुड़ा ले गए थे।

दिल्ली के अलीपुर का रहने वाला जितेंद्र गोगी गिरफ्तारी से पहले दिल्ली और हरियाणा पुलिस के लिए बड़ा सिरदर्द था। वह 3 बार पुलिस कस्टडी से फरार भी हो चुका था। जुलाई 2016 में दिल्ली पुलिस उसे हरियाणा रोडवेज की बस से नरवाना कोर्ट में पेशी पर ले जा रही थी। बहादुरगढ़ में दो कार में आए 10 बदमाशों ने इस बस को ओवरटेक कर रोक लिया। बस में पहले से ही गोगी के साथी मौजूद थे। उन्होंने पुलिसकर्मियों की आंखों में मिर्च झोंकी और फायरिंग करते हुए गोगी को पुलिस कस्टडी से छुड़ा ले गए। बदमाशों ने पुलिस के हथियार भी लूट लिए थे।

2 साल पहले पकड़ा गया था जितेंद्र
जितेंद्र को 2020 में स्पेशल सेल ने गुरुग्राम से गिरफ्तार किया था। गोगी के साथ कुलदीप फज्जा को भी पकड़ा गया था। कुलदीप फज्जा बाद में 25 मार्च को कस्टडी से फरार हो गया था। फज्जा जीटीबी अस्पताल से फरार हुआ था। बाद में वह पुलिस एनकाउंटर में मारा गया था। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के मुताबिक जितेंद्र गोगी ने अपराध के जरिए करोड़ों की संपत्ति बनाई है। उसके नेटवर्क में 50 से ज्यादा लोग थे।

जून 2018 में बुराड़ी में हुए शूटआउट में 4 लोगों की मौत हुई थी। इसके बाद गोगी पुलिस के टारगेट पर आ गया।

जून 2018 में बुराड़ी में हुए शूटआउट में 4 लोगों की मौत हुई थी। इसके बाद गोगी पुलिस के टारगेट पर आ गया।

तिहाड़ से ही दुबई के कारोबारी से मांगे थे 5 करोड़
गोगी देश की सबसे सुरक्षित जेलों में शुमार तिहाड़ जेल में पिछले 2 साल से कैद था। वह जेल से ही रंगदारी, फिरौती के लिए किडनैपिंग और सुपारी किलिंग का कारोबार चला रहा था। उसके रसूख का इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि तिहाड़ जेल से ही उसने दुबई के एक कारोबारी से 5 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी थी। इस वजह से भी वह काफी सुर्खियों में रहा।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *