Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Fake mobil oil game in Hisar: Fake mobil oil was being sold in HP company’s packing: Sample spread in lab test, 26 liters of packing was sold for less than the company’s rate | HP की 26 लीटर की पैकिंग में कंपनी के रेट से कम में बेचा जा रहा था नकली मोबिल ऑयल, लैब टेस्ट में सैंपल हुआ फेल


  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Fake Mobil Oil Game In Hisar: Fake Mobil Oil Was Being Sold In HP Company’s Packing: Sample Spread In Lab Test, 26 Liters Of Packing Was Sold For Less Than The Company’s Rate

हिसार22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
हिसार की ऑटो मार्केट में दुर्गा लुब्रिकेंट नामक दुकान पर छापे के बाद गिरफ्तार किया गया संचालक (लाल घेरे में)। - Dainik Bhaskar

हिसार की ऑटो मार्केट में दुर्गा लुब्रिकेंट नामक दुकान पर छापे के बाद गिरफ्तार किया गया संचालक (लाल घेरे में)।

एशिया के सबसे बड़े कहे जाने वाले हिसार के ऑटो मार्केट में नकली मोबिल ऑयल के खेल का खुलासा हुआ है। यहां हिंदुस्तान पेट्रोलियम (HP) कंपनी के डिब्बों में नकली मोबिल तेल बेचा जा रहा था। कंपनी के अधिकारियों ने छापेमारी करके ऑटो मार्केट की एक दुकान से बड़ी मात्रा में नकली मोबिल ऑयल बरामद किया है। इस मामले में HP के वरिष्ठ जांच अधिकारी विनोद कुमार तिवारी की शिकायत पर दुर्गा लुब्रिकेंट के संचालक सन्नी सिंगला के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। टीम ने इस दुकान से कंपनी की 26 लीटर की पैकिंग में भरा हुआ मोबिल ऑयल बरामद किया है, वहीं संचालक को गिरफ्तार कर लिया है।

दुकान से बरामद किया गया नकली मोबिल ऑयल।

दुकान से बरामद किया गया नकली मोबिल ऑयल।

HP के जांच अधिकारी ने बताया कि उनको शिकायत मिल रही थी कि हिसार में उनकी कंपनी के नाम का नकली ऑयल बेचा जा रहा है। इसके बाद उनकी टीम जांच के लिए हिसार पहुंची और जांच के लिए दुर्गा लुब्रिकेंट नामक दुकान से 26 लीटर की मोबिल ऑयल पैकिंग खरीदी। इस पैकिंग की कंपनी के अनुसार ही कीमत 4200 रुपए है, जबकि दुकानदार ने उनको ये डिब्बा 3800 में दे दिया। तभी टीम को इस पर शक हो गया था। इसके बाद उन्होने इस तेल का लैब टेस्ट करवाया तो वो नकली तेल मिला। इसके बाद टीम ने पुलिस के साथ छापेमारी करके दुकान से काफी मात्रा में नकली मोबिल ऑयल बरामद किया है। जांच में पाया गया है कि ये तेल कंपनी की नकली तैयार की हुई पैकिंग में भरा हुआ था।

कैसे चलता है ये खेल और कहां से आता है नकली तेल
नकली मोबिल ऑयल के धंधे से जुड़े एक जानकार ने बताया कि ऑटो मार्केट में रोज सैकड़ों गाड़ियों और बाइक की सर्विस होती है। अकेली हिसार ऑटो मार्केट में से हजारों लीटर काला तेल जमा होता है। दुकानों और सर्विस सेंटर से शाम को इस काले तेल को जमा कर लिया जाता है। इसके बाद इस तेल को साफ करके फिर से नकली पैकिंग में पैक करके बाजार में बेच दिया जाता है। नकली मोबिल ऑयल 60 से 80 रुपए लीटर में तैयार हो जाता है और बाजार में आसानी से 150 रुपए लीटर तक बेचा जाता है। तेल बेचने के लिए ये लोग या तो दुकानों से खाली डिब्बे खरीद लेते हैं या कंपनी के नाम से मिलता जुलता डिब्बा बनवा लेते हैं और उसमें नकली तेल भरकर आगे बेच देते हैं।

दुकान में HP कंपनी की 26 लीटर की पैकिंग ऐसे मिली, जिनमें बड़ी मात्रा में नकली तेल भरा हुआ है। कार्रवाई में यो सब जब्त कर लिया गया।

दुकान में HP कंपनी की 26 लीटर की पैकिंग ऐसे मिली, जिनमें बड़ी मात्रा में नकली तेल भरा हुआ है। कार्रवाई में यो सब जब्त कर लिया गया।

क्या है नकली मोबिल ऑयल से नुकसान
मोबिल ऑयल का काम इंजन के अंदरूनी पार्ट्स में चिकनाई बनाए रखने का होता है। नकली तेल में असली तेल के मुकाबले कम चिकनाई होती है। कंपनी का असली मोबिल ऑयल बाइक में 1500 किलोमीटर तक चल जाता है, लेकिन नकली तेल सिर्फ 300 किलोमीटर ही चल पाता है। नकली मोबिल के ग्राहक को दो तरह का नुकसान होता है। एक तो उसको नकली ऑयल असली की कीमत में बेचा जाता है वहीं नकली तेल से इंजन को भी नुकसान होता है और कंपनी की इमेज भी खराब होती है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *