Final Dry Run Of Corona Vaccination In Uttar Pradesh. – यूपी में कोरोना वैक्सीनेशन का फाइनल ड्राई रन जारी, मुख्यमंत्री योगी खुद रख रहे नजर


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ
Updated Mon, 11 Jan 2021 12:37 PM IST

मुख्यमंत्री योगी लखनऊ के सिविल अस्पताल पहुंचे और तैयारियों को परखा।
– फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

कोरोना वैक्सीनेशन के पहले चरण की तैयारियों को परखने के लिए प्रदेश में तीसरा व फाइनल ड्राई रन किया जा रहा है। इसमें सभी संसाधनों को वास्तविक टीकाकरण कार्यक्रम की तरह ही लगाया जा रहा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं फाइनल ड्राई रन की हकीकत परख रहे हैं। इसके लिए उन्होंने लखनऊ के सिविल अस्पताल का दौरा किया।

मुख्यमंत्री पांच जिलों सिद्धार्थनगर, लखनऊ, वाराणसी, गोरखपुर व मेरठ के टीकाकरण केंद्रों की कार्यप्रणाली को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जानेंगे और वैक्सीनेटर्स, सुपरवाइजर और टीकाकरण में लगे कर्मचारियों से भी बात करेंगे। इन पांच टीकाकरण केंद्रों में से किन्हीं दो के स्वास्थ्यकर्मियों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी 16 जनवरी को बात करेंगे।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने बताया कि फाइनल टीकाकरण में 1500 केंद्रों पर 3000 बूथ बनाए गए हैं। पूरे प्रदेश में लगभग 20 हजार स्वास्थ्यकर्मी टीकाकरण केंद्रों पर लगाए जा रहे हैं। पुलिस, होमगार्ड, आंगनबाड़ी, स्वयंसेवी कार्यकर्ताओं की संख्या अलग है। फाइनल ड्राई रन में अगर कोई कमी पाई गई तो उसे सुधारा जाएगा। जिससे 16 जनवरी को वैक्सीन लॉन्चिंग और टीकाकरण के दौरान किसी तरह की गलती न हो। प्रदेश में पहले चरण में नौ लाख स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण होना है।

कोरोना वैक्सीनेशन के पहले चरण की तैयारियों को परखने के लिए प्रदेश में तीसरा व फाइनल ड्राई रन किया जा रहा है। इसमें सभी संसाधनों को वास्तविक टीकाकरण कार्यक्रम की तरह ही लगाया जा रहा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ स्वयं फाइनल ड्राई रन की हकीकत परख रहे हैं। इसके लिए उन्होंने लखनऊ के सिविल अस्पताल का दौरा किया।

मुख्यमंत्री पांच जिलों सिद्धार्थनगर, लखनऊ, वाराणसी, गोरखपुर व मेरठ के टीकाकरण केंद्रों की कार्यप्रणाली को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जानेंगे और वैक्सीनेटर्स, सुपरवाइजर और टीकाकरण में लगे कर्मचारियों से भी बात करेंगे। इन पांच टीकाकरण केंद्रों में से किन्हीं दो के स्वास्थ्यकर्मियों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी 16 जनवरी को बात करेंगे।

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने बताया कि फाइनल टीकाकरण में 1500 केंद्रों पर 3000 बूथ बनाए गए हैं। पूरे प्रदेश में लगभग 20 हजार स्वास्थ्यकर्मी टीकाकरण केंद्रों पर लगाए जा रहे हैं। पुलिस, होमगार्ड, आंगनबाड़ी, स्वयंसेवी कार्यकर्ताओं की संख्या अलग है। फाइनल ड्राई रन में अगर कोई कमी पाई गई तो उसे सुधारा जाएगा। जिससे 16 जनवरी को वैक्सीन लॉन्चिंग और टीकाकरण के दौरान किसी तरह की गलती न हो। प्रदेश में पहले चरण में नौ लाख स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण होना है।



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *