Fire Broke Out In A Stationary Shop In Barabanki. – बाराबंकी: स्टेशनरी की दुकान में लगी भीषण आग में करीब 30 लाख का सामान राख


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

बाराबंकी जिले के फतेहपुर कस्बे के ब्लाक के सामने स्थित कॉपी किताब व स्टेशनरी की थोक व फुटकर दुकान है। रविवार की भोर दुकान में अचानक आग लग गई। मामले की सूचना पर पहुंचे दमकल कर्मियों ने पांच घटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। लेकिन तब तक दुकान में रखा लाखों का सामान जलकर राख हो चुका था। हालांकि दुकान मालिक द्वारा नुकसान की जानकारी नहीं दी गई है लेकिन स्थानीय व्यापारी करीब तीस लाख के नुकसान होने की बात कह रहे है।

कस्बा फतेहपुर के पचघरा मोहल्ला निवासी पंकज जैन की ब्लाक के सामने प्रेम पुस्तक वाटिका के नाम से कॉपी किताब व स्टेशनरी की थोक व फुटकर की दुकान है। रविवार की सुबह उधर से टहलने निकले लोगों ने दुकान के अंदर से धुंआ उठता देखकर दुकान मालिक को सूचना दी। वहीं आस पास के लोगों ने फायर ब्रिगेड को आग लगने की सूचना दी।

सूचना पर दमकलकर्मी मौके पर पहुंच गए और आग बुझाने का काम शुरू कर दिया लेकिन आग की लपटें इतनी तेजी से उठ रही थी कि एक दमकल की गाड़ी उसे बुझाने में असमर्थ दिखाई दी। इसके बाद जिला मुख्यालय से एक और आग बुझाने वाले दमकल वाहन को बुलाया गया। इस दौरान देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। दोनों गाड़ियों में करीब दस बार पानी भरकर लाया गया। पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद फायर कर्मियों द्वारा आग पर किसी तरह काबू पाया जा सका।

दुकान मालिक पंकज जैन किसी काम से बाहर गए हुए थे। इसलिए कितनी कीमत का सामान जल कर नष्ट हुआ है इसकी अनुमानित लागत नहीं पता चल पा रही है। आसपास के दुकानदारों का कहना है कि दुकान के आंदर रखा लाखों रूपये की लागत का सामान था जो जलकर नष्ट हो चुका है।

बाराबंकी जिले के फतेहपुर कस्बे के ब्लाक के सामने स्थित कॉपी किताब व स्टेशनरी की थोक व फुटकर दुकान है। रविवार की भोर दुकान में अचानक आग लग गई। मामले की सूचना पर पहुंचे दमकल कर्मियों ने पांच घटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। लेकिन तब तक दुकान में रखा लाखों का सामान जलकर राख हो चुका था। हालांकि दुकान मालिक द्वारा नुकसान की जानकारी नहीं दी गई है लेकिन स्थानीय व्यापारी करीब तीस लाख के नुकसान होने की बात कह रहे है।

कस्बा फतेहपुर के पचघरा मोहल्ला निवासी पंकज जैन की ब्लाक के सामने प्रेम पुस्तक वाटिका के नाम से कॉपी किताब व स्टेशनरी की थोक व फुटकर की दुकान है। रविवार की सुबह उधर से टहलने निकले लोगों ने दुकान के अंदर से धुंआ उठता देखकर दुकान मालिक को सूचना दी। वहीं आस पास के लोगों ने फायर ब्रिगेड को आग लगने की सूचना दी।

सूचना पर दमकलकर्मी मौके पर पहुंच गए और आग बुझाने का काम शुरू कर दिया लेकिन आग की लपटें इतनी तेजी से उठ रही थी कि एक दमकल की गाड़ी उसे बुझाने में असमर्थ दिखाई दी। इसके बाद जिला मुख्यालय से एक और आग बुझाने वाले दमकल वाहन को बुलाया गया। इस दौरान देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। दोनों गाड़ियों में करीब दस बार पानी भरकर लाया गया। पांच घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद फायर कर्मियों द्वारा आग पर किसी तरह काबू पाया जा सका।

दुकान मालिक पंकज जैन किसी काम से बाहर गए हुए थे। इसलिए कितनी कीमत का सामान जल कर नष्ट हुआ है इसकी अनुमानित लागत नहीं पता चल पा रही है। आसपास के दुकानदारों का कहना है कि दुकान के आंदर रखा लाखों रूपये की लागत का सामान था जो जलकर नष्ट हो चुका है।



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *