Hindi News International Coronavirus Novel Corona Covid 19 7 November | Coronavirus Novel Corona Covid 19 News World Cases Novel Corona Covid 19 | फ्रांस में लॉकडाउन से फायदा नहीं हुआ; ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया में पाबंदी हटने के 8 दिन बाद भी नया केस नहीं


  • Hindi News
  • International
  • Hindi News International Coronavirus Novel Corona Covid 19 7 November | Coronavirus Novel Corona Covid 19 News World Cases Novel Corona Covid 19

वॉशिंगटन23 मिनट पहले

मैक्सिको में कोरोना की वैक्सीन का लेट स्टेज ट्रायल चल रहा है। यह वैक्सीन चीन की एक कंपनी ने बनाई है।

  • संक्रमितों का आंकड़ा 4.96 करोड़ के पार, ठीक हुए मरीजों की संख्या 3.52 करोड़ से ज्यादा
  • अमेरिका में 99.17 लाख से ज्यादा संक्रमित, 2.40 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हुई

ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया प्रांत में पिछले आठ दिन से कोरोना को कोई नया मामला नहीं आया है। खास बात यह है कि यहां की राजधानी मेलबर्न में तीन महीने से चल रहा लॉकडाउन पिछले सप्ताह ही हटा दिया गया है। राज्य प्रमुख ने वीकेंड पर और छूट की घोषणा की है। दूसरी तरफ, फ्रांस में 60 हजार से ज्यादा मामले आए।

अगस्त में विक्टोरिया में लगभग 700 मरीज हर रोज मिल रहे थे। यह महामारी का पीक था। इसके बाद प्रशासन ने सख्त प्रतिबंध लगा दिए थे। उधर, जर्मनी में सरकार की ओर से लगाई गई पाबंदियों के विरोध में लोग सड़क पर उतर आए हैं। मैक्सिको में कोरोना की वैक्सीन का लेट स्टेज ट्रायल चल रहा है। यह वैक्सीन चीन की एक कंपनी ने बनाई है। इसका डोज 10 से 15,000 वॉलेंटियर को दिया जाएगा।

दुनिया में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 4.96 करोड़ से ज्यादा हो गया है। 3 करोड़ 52 लाख 34 हजार 120 मरीज रिकवर हो चुके हैं। अब तक 1.55 करोड़ से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं।

अमेरिका में आंकड़े डराने वाले
अमेरिका में हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं। शुक्रवार को एक और नया रिकॉर्ड बना। एक दिन में 1 लाख 28 हजार मामले सामने आए। मरने वालों का आंकड़ा भी एक हजार बढ़ गया। लगातार चौथे दिन इतनी मौतें हुईं। अब अमेरिका में ही एक करोड़ से ज्यादा मामले हो चुके हैं।

अमेरिकी हेल्थ डिपार्टमेंट की फिक्र ये है कि लगातार छठवें दिन एक लाख से ज्यादा मामले सामने आए। मरने वालों के आंकड़ा 2 लाख 35 हजार से ज्यादा हो गया है। मायने, आयोवा, कोलोरोडो और मिनेसोटा में संक्रमण सबसे तेजी से फैल रहा है।

इटली फिर परेशान
इटली में शुक्रवार को 38 हजार मामले सामने आए। इस बीच सरकार ने नाइट कर्फ्यू लगा दिया है। लोगों से कहा गया है कि अगर वे इसका पालन नहीं करेंगे तो जुर्माने के साथ जेल भी जाना पड़ सकता है। खास बात यह है कि इटली में हर दिन मामले बढ़ रहे हैं। हर दिन ये आंकड़ा 2 से 3 हजार तक बढ़ रहा है। मार्च-अप्रैल में संक्रमण का केंद्र रहे लोम्बार्डी में 9934 मामले सामने आए।

इटली के तूरिन शहर में शुक्रवार शाम बाजार खाली नजर आए। सरकार ने यहां बेमियादी नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया।

इटली के तूरिन शहर में शुक्रवार शाम बाजार खाली नजर आए। सरकार ने यहां बेमियादी नाइट कर्फ्यू का ऐलान किया।

फ्रांस में लॉकडाउन नाकाफी साबित हुआ
फ्रांस में लगातार आठवें दिन 50 हजार से ज्यादा मामले सामने आए। शुक्रवार को तो गुरुवार की तुलना में 10 हजार ज्यादा मामले सामने आए। कुल 60 हजार 486 संक्रमितों की पहचान हुई। इससे भी ज्यादा फिक्र की बात यह है कि देश के अस्पतालों में वही हाल होते नजर आ रहे हैं, जो अप्रैल में थे। मेक शिफ्ट हॉस्पिटल तैयार किए जाने पर विचार शुरू हो गया है। लॉकडाउन से कोई फायदा होता नजर नहीं आ रहा। इसके विरोध में कई जगह प्रदर्शन भी हो रहे हैं।

पेरिस के एक अस्पताल के आईसीयू में मौजूद नर्स। देश में शुक्रवार को 60 हजार से ज्यादा मामले सामने आए।

पेरिस के एक अस्पताल के आईसीयू में मौजूद नर्स। देश में शुक्रवार को 60 हजार से ज्यादा मामले सामने आए।

यूरोप में हालात खतरनाक
WHO के मुताबिक, यूरोप में हालात तेजी से बिगड़ रहे हैं और ये खतरनाक स्तर पर पहुंचने लगे हैं। फ्रांस, जर्मनी, स्पेन, बेल्जियम और इटली में कोरोना की दूसरी लहर घातक साबित हो रही है। फ्रांस में हर दिन 50 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं।

इसके अलावा जर्मनी और बेल्जियम में 30 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। सरकारों की दिक्कत ये है कि वे जब भी सख्ती करती हैं, तभी विरोध शुरू हो जाता है। संगठन के यूरोप प्रभारी हेन्स क्लूज ने कहा- हम यहां कोरोना विस्फोट देख रहे हैं। 10 लाख से ज्यादा मामले 2 दिन में सामने आए हैं। हमें बहुत ईमानदारी से इन हालात का मुकाबला करना होगा।



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *