Thursday, 29 October, 2020
ताजा खबर

योगी आदित्‍यनाथ को ऐसे मिली पिता आनंद सिंह बिष्‍ट के निधन की खबर

नई दिल्‍ली: उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के पिता, आनंद सिंह बिष्‍ट का निधन हो गया है। सोमवार सुबह दिल्‍ली के ऑल इंडिया इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (AIIMS) में उन्‍होंने अंतिम सांस ली। उनकी हालत गंभीर थी और उन्‍हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था।

बीच मीटिंग में योगी को दी गई जानकारी

जब पिता का निधन हुआ, उस वक्‍त योगी आदित्‍यनाथ लखनऊ में थे। वे अपनी कोर टीम के साथ लॉकडाउन में ढील और आगे की कार्रवाई को लेकर चर्चा कर रहे थे। सूत्रों के मुताबिक, इसी मीटिंग के बीच उन्‍हें यह दुखद समाचार दिया गया। मगर वह विचलित नहीं हुए और बैठक पूरी करने के बाद ही उठे। मीटिंग में उन्‍होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि कोटा से लौटे बच्‍चों का होम क्‍वारंटीन में रहना सुनिश्चित कराया जाए। साथ ही उनके मोबाइल में Aarogya Setu ऐप डाउनलोड कराने के बाद ही उन्‍हें घर भेजा जाए।

गैस्‍ट्रो विभाग में चल रहा था इलाज

89 साल के आनंद सिंह बिष्‍ट का इलाज एम्‍स के गैस्‍ट्रो डिपार्टमेंट में चल रहा था। डॉक्‍टर्स के मुताबिक, उन्‍हें किडनी और लिवर की समस्‍या थी। वह आईसीयू में भर्ती थे और उनका डायलिसिस भी हो रहा था। गैस्‍ट्रो डिपार्टमेंट में डॉ. विनीत आहूजा की टीम उनका इलाज कर रही थी। डॉक्‍टरों के जवाब देने के बाद, उन्‍हें एयर एम्‍बुलेंस के जरिए पैतृक गांव में शिफ्ट करने की तैयारी चल ही रही थी कि इसी बीच उनका निधन हो गया। यूपी के अडिशनल चीफ सेक्रटरी (होम) अवनीश अवस्थी ने कहा, ‘मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता का आज सुबह 10 बजकर 44 मिनट पर स्वर्गवास हो गया है।’

बीजेपी के बड़े नेता गए थे देखने

AIIMS में भर्ती रहे आनंद सिंह बिष्‍ट को देखने रविवार रात बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी के संगठन महासचिव बीएल संतोष पहुंचे थे। कल रात ही उनकी तबीयत अचानक बिगड़ गई थी। इसके बाद उन्‍हें लाइफ सपोर्ट सिस्‍टम पर रखा गया था। आज डॉक्‍टरों ने जवाब दे दिया। सुबह 10.30 बजते-बजते उनकी हालत खराब हो गई। बताया जा रहा है कि मल्‍टी-ऑर्गन फेल्‍योर के चलते बिष्‍ट का निधन हो गया।

गांव में रहते थे सीएम योगी के पिता

आनंद सिंह बिष्‍ट फॉरेस्‍ट रेंजर थे। उत्‍तराखंड के अलग राज्‍य बनने से पहले ही, 1991 में वे रिटायर हो चुके थे। उसके बाद से यमकेश्‍वर के पंचूर गांव में रहते आए थे। योगी के बचपन का नाम अजय सिंह बिष्‍ट है। वह बालकाल में ही परिवार को त्‍याग कर गोरखपुर में महंत अवेद्यनाथ के पास चले गए थे। महंत अवेद्यनाथ के महापरिनिर्वाण के बाद योगी आदित्‍यनाथ को गोरक्षपीठ का प्रमुख बनाया गया था।

credit

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media

Most Popular

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.
On Key

Related Posts

India Pakistan: Imran Khan | IAF Wing Commander Abhinandan Varthaman Update | Pakistan Imran Khan Minister Sardar Ayaz Sadiq On Indian Air Force Pilot Abhinandan | विदेश मंत्री ने कहा था- हमने अभिनंदन को नहीं छोड़ा तो भारत हमला कर देगा; आर्मी चीफ कांप रहे थे

Hindi News National India Pakistan: Imran Khan | IAF Wing Commander Abhinandan Varthaman Update | Pakistan Imran Khan Minister Sardar Ayaz Sadiq On Indian Air

Prophet’s Message: To follow the path of education means to follow the path of Allah | पैगंबर साहब का संदेश: शिक्षा का रास्ता अपनाने का मतलब है अल्लाह के रास्ते पर चलना

4 घंटे पहले कॉपी लिंक मोहम्मद साहब ने कहा है कि रहम दिली ईमान की निशानी है, जिसमें रहम नहीं उसमें ईमान नहीं। इस्लामिक कैलेंडर

Today History for October 29th/ What Happened Today | 100 Glorious Years of Jamila Millia Islamia | India Thrid President Zakir Hussain And His Contribution In Jamil Millia Islamia | Delhi Blasts 2005 killed 60 People and Injured Over 200 | जामिया मिल्लिया इस्लामिया के 100 साल, जिसके लिए महात्मा गांधी भीख मांगने को तैयार थे

Hindi News National Today History For October 29th What Happened Today | 100 Glorious Years Of Jamila Millia Islamia | India Thrid President Zakir Hussain