Kunwar Manvendra Singh Appointed As Protem Speaker Of Legislative Council – कुंवर मानवेंद्र सिंह विधान परिषद के प्रोटेम स्पीकर नियुक्त, शपथ ग्रहण के बाद बोले…


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

विधान परिषद के पूर्व उप सभापति व कार्यकारी सभापति रह चुके भाजपा के कुंवर मानवेंद्र सिंह विधान परिषद के प्रोटेम स्पीकर बनाए गए हैं। रविवार को राजभवन में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने उन्हें शपथ दिलाई। परिषद के मौजूदा सभापति रमेश यादव का कार्यकाल शनिवार को समाप्त हो गया। उनके स्थान पर सभापति की नियुक्ति न होने पर सपा ने राजभवन का दरवाजा खटखटाया था। अनुभवी व वरिष्ठ मानवेंद्र सिंह सदन के संचालन में अपनी कुशलता साबित भी कर चुके हैं। 

बखूबी आता है मुझे सदन चलाना : मानवेंद्र सिंह
शपथ ग्रहण करने के बाद विधान परिषद के प्रोटेम स्पीकर कुंवर मानवेंद्र सिंह विधान परिषद स्थित अपने कार्यालय में पहुंचे। वहां उन्होंने अमर उजाला से बातचीत में कहा, इससे पहले भी मैं  2002 से 2004 के बीच प्रोटेम स्पीकर रह चुका हूं। मिलजुल कर सदन की कार्यवाही चलाना मुझे अच्छी तरह से आता है। उन्होंने कहा कि सभापति का काम होता है कि विपक्ष के सदस्यों का संरक्षण हो और सरकार के कामकाज में भी बाधा ना आए। इस जिम्मेदारी को निभाना मैं बखूबी जानता हूं। जब भी सदन की कार्यवाही शुरू होगी। आपको इसका प्रमाण मिल जाएगा।

विधान परिषद के पूर्व उप सभापति व कार्यकारी सभापति रह चुके भाजपा के कुंवर मानवेंद्र सिंह विधान परिषद के प्रोटेम स्पीकर बनाए गए हैं। रविवार को राजभवन में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने उन्हें शपथ दिलाई। परिषद के मौजूदा सभापति रमेश यादव का कार्यकाल शनिवार को समाप्त हो गया। उनके स्थान पर सभापति की नियुक्ति न होने पर सपा ने राजभवन का दरवाजा खटखटाया था। अनुभवी व वरिष्ठ मानवेंद्र सिंह सदन के संचालन में अपनी कुशलता साबित भी कर चुके हैं। 

बखूबी आता है मुझे सदन चलाना : मानवेंद्र सिंह

शपथ ग्रहण करने के बाद विधान परिषद के प्रोटेम स्पीकर कुंवर मानवेंद्र सिंह विधान परिषद स्थित अपने कार्यालय में पहुंचे। वहां उन्होंने अमर उजाला से बातचीत में कहा, इससे पहले भी मैं  2002 से 2004 के बीच प्रोटेम स्पीकर रह चुका हूं। मिलजुल कर सदन की कार्यवाही चलाना मुझे अच्छी तरह से आता है। उन्होंने कहा कि सभापति का काम होता है कि विपक्ष के सदस्यों का संरक्षण हो और सरकार के कामकाज में भी बाधा ना आए। इस जिम्मेदारी को निभाना मैं बखूबी जानता हूं। जब भी सदन की कार्यवाही शुरू होगी। आपको इसका प्रमाण मिल जाएगा।



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *