Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Mamta Banerjee will not campaign in Kolkata amid Corona’s increasing cases, also reduced the time of all her rallies | ममता बनर्जी कोलकाता में प्रचार नहीं करेंगी, रैलियों का समय भी घटाया; कल राहुल गांधी ने सभी सभाएं रद्द की थीं


  • Hindi News
  • National
  • Mamta Banerjee Will Not Campaign In Kolkata Amid Corona’s Increasing Cases, Also Reduced The Time Of All Her Rallies

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोलकाता4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
​​​​​​​बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग से अपील है कि लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बचे हुए 3 चरणों के चुनाव एकसाथ कराए जाएं। - Dainik Bhaskar

​​​​​​​बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग से अपील है कि लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बचे हुए 3 चरणों के चुनाव एकसाथ कराए जाएं।

कोरोना के बढ़ते मामलों का असर बंगाल के बाकी बचे चरणों के चुनाव प्रचार पर भी दिखने लगा है। अब TMC नेता ममता बनर्जी ने कोलकाता में प्रचार नहीं करने का फैसला किया है। वह प्रचार के आखिरी दिन 26 अप्रैल को एक सिंबॉलिक मीटिंग में शामिल होंगी। उन्होंने सभी जिलों की रैलियों का अपना समय 30 मिनट तक सीमित दिया है। यह जानकारी TMC नेता डेरेक ओ ब्रायन ने दी है।

वहीं, पार्टी के सीनियर लीडर और भवानीपुर सीट से उम्मीदवार शोभनदेब चट्‌टोपाध्याय ने बताया कि पार्टी कोई बड़ी रैली नहीं करेगी। इधर, लेफ्ट की ओर से भी राज्य में बड़ी रैलियां नहीं करने का फैसला किया है।

राहुल गांधी पहले ही रैलियां रद्द कर चुके
इससे पहले रविवार को कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा था कि कोरोना की स्थिति को देखते हुए वे पश्चिम बंगाल में अपनी सभी सार्वजनिक रैलियों को स्थगित कर रहे हैं। उन्होंने सभी दूसरे दलों के नेताओं को भी इस पर गहराई से विचार करने की सलाह दी थी। उन्होंने सोशल सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा- राजनीतिक दलों को सोचना चाहिए कि ऐसे समय में इन रैलियों से जनता और देश को कितना खतरा है।

ममता की मांग- बचे हुए तीनों चरणों के चुनाव एकसाथ कराएं
बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग से अपील है कि लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बचे हुए 3 चरणों के चुनाव एकसाथ कराए जाएं। उन्होंने कहा कि हमने हमेशा 8 चरणों में विधानसभा चुनाव का विरोध किया है। हम नहीं चाहते थे कि कोरोना के बीच राज्य में इतने लंबे समय तक चुनाव चले। अब जब हालात बिगड़ते जा रहे हैं, हम चुनाव आयोग से अपील करते है कि वो इस पर विचार करे।

हर दिन देश में आ रहे 2 लाख से ज्यादा केस
देश में कोरोना की दूसरी लहर लगातार तेज हो रही है। हर दिन दो लाख से ज्यादा केस आ रहे हैं। पश्चिम बंगाल में भी इसकी रफ्तार तेज हो चुकी है। यहां रविवार को 8,419 संक्रमित मिले। इनमें से अकेले कोलकाता में ही 2,197 मरीज मिले हैं। उधर, बंगाल में चुनावी रैलियों में उमड़ने वाली भीड़ को लेकर भी लोग सोशल मीडिया पर सभी राजनीतिक दलों को कोस रहे हैं। उनकी मांग है कि इन चुनावी सभाओं को तत्काल रद्द कर देना चाहिए।
बंगाल में 3 फेज की वोटिंग बाकी
पश्चिम बंगाल की 294 सीटों पर 8 फेज में वोटिंग होनी है। पहले फेज में 27 मार्च को 30 सीट, 1 अप्रैल को दूसरे फेज में 30 सीट और तीसरे फेज में 6 अप्रैल को 31 सीटों पर मतदान हुआ। इसके बाद 10 अप्रैल को चौथे चरण में 44 सीटों पर वोटिंग हुई। शनिवार (17 अप्रैल) को पांचवें चरण के तहत 45 सीटों पर वोटिंग हुई। इसके बाद 22 अप्रैल को छठवें चरण में 43 सीटों पर मतदान होगा। इसके बाद सातवें चरण में 26 अप्रैल को 36 सीट और 29 अप्रैल को आठवें चरण में 35 सीटों पर वोटिंग होनी है। काउंटिंग 2 मई को होगी

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *