Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Now individuals can update vaccination status on Aarogya Setu app the facility will make it easier to check the vaccination status for travel purposes | आरोग्य सेतु पर वैक्सीनेशन का स्टेटस अपडेट कर सकेंगे, इससे सफर के दौरान जांच में आसानी होगी


  • Hindi News
  • National
  • Now Individuals Can Update Vaccination Status On Aarogya Setu App The Facility Will Make It Easier To Check The Vaccination Status For Travel Purposes

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

अब कोई भी शख्स अपने मोबाइल में आरोग्य सेतु ऐप पर वैक्सीनेशन स्टेटस अपडेट कर सकेगा। यह सेल्फ असेसमेंट प्रोसेस होगी। सरकार के मुताबिक, यह सुविधा कहीं सफर करने पर वैक्सीनेशन की स्थिति की जांच को आसान बना देगी। आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि सभी आरोग्य सेतु यूजर्स को अपडेट द वैक्सीनेशन स्टेटस का ऑप्शन मिलेगा।

मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि आरोग्य सेतु ऐप पर यह नई सुविधा शुरू की गई है। जिन लोगों को वैक्सीन का सिंगल डोज लग गया है, उन्हें ऐप की होम स्क्रीन पर वैक्सीनेशन के स्टेटस के साथ सिंगल ब्लू टिक दिखाई देगी। दूसरा डोज लगने के 14 दिन के बाद उन लोगों को ऐप पर डबल टिक वाली एक ब्लू शील्ड दिखाई देगी। कोविन पोर्टल से वैक्सीनेशन के स्टेटस का वैरिफिकेशन होने के बाद यह डबल टिक दिखाई देगी।

यूजर को देनी होगी वैक्सीनेशन की जानकारी
वैक्सीनेशन का स्टेटस कोविन रजिस्ट्रेशन के लिए यूज किए मोबाइल नंबर के जरिए अपडेट किया जा सकता है। आरोग्य सेतु ऐप पर सेल्फ असेसमेंट करने पर, जिन लोगों ने कोरोना वैक्सीन का कम से कम एक डोज लिया है, उन्हें आरोग्य सेतु की होम स्क्रीन पर पार्शली वैक्सीनेशन/वैक्सीनेटेड (अनवैरिफाइड) का टैब मिलेगा।

बयान में कहा गया है कि यह सेल्फ असेसमेंट के दौरान यूजर की ओर से दी गई टीका लगवाने की जानकारी पर आधारित है। कोविन से ओटीपी बेस्ड जांच के बाद अनवैरिफाइड स्टेटस वैरिफाइड हो जाता है। दूसरे डोज के 14 दिनों के बाद आरोग्य सेतु की होम स्क्रीन पर यू आर वैक्सीनेटेड लिखा आएगा। इससे सफर या किसी कैंपस तक पहुंच के लिए वैक्सीनेशन स्टेटस की जांच आसान हो जाएगी। भारत में 19 करोड़ से ज्यादा लोग आरोग्य सेतु ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *