Pakistani handlers got terrorists’ chat, gave mobile phones before crossing the border | जैश आतंकियों से चैट कर रहा था पाकिस्तानी हैंडलर, हालात से लेकर लोकेशन तक की जानकारी ली


  • Hindi News
  • National
  • Pakistani Handlers Got Terrorists’ Chat, Gave Mobile Phones Before Crossing The Border

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जम्मू3 घंटे पहलेलेखक: दीपक खजूरिया

  • कॉपी लिंक

सिक्योरिटी फोर्सेस ने 19 नवंबर को श्रीनगर नेशनल हाईवे पर बन टोल प्लाजा पर आतंकियों से भरे ट्रक को उड़ाया था। एनकाउंटर के बाद मौके पर पड़ताल करते अधिकारी।

जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में गुरुवार को हुए एनकाउंटर में जैश-ए-मोहम्मद के चार आतंकी मारे गए थे। मारे गए आतंकी पाकिस्तान में बैठे हैंडलर से चैट कर रहे थे। वहीं से इन्हें निर्देश दिए जा रहे थे। आतंकियों के मोबाइल फोन की पड़ताल से यह खुलासा हुआ है।

सुरक्षाबलों ने आतंकियों के पास से पाकिस्तान में बने MPD-2505 मॉडल के मोबाइल हैंडसेट बरामद किए हैं। इनमें पाकिस्तान के सिम कार्ड हैं। बरामद मोबाइल हैंडसेट एंड्रॉयड फोन नहीं हैं। खास बात यह है कि इनमें की-एप भी नहीं है। इनमें केवल टेक्स्ट मैसेज से की गई चैट मौजूद है।

आतंकियों से पाकिस्तानी हैंडलर की चैट
मारे गए आतंकियों में से एक से उसके हैंडलर ने मैसेज में पूछा, “कहां पहुंचे? क्या सूरतेहाल है? कोई मुश्किल तो नही?”

पाकिस्तान में बने MPD-2505 मोबाइल फोन का स्क्रीनशॉट जिसमें पाकिस्तानी हैंडलर आतंकी से उसकी लोकेशन पूछ रहा है।

पाकिस्तान में बने MPD-2505 मोबाइल फोन का स्क्रीनशॉट जिसमें पाकिस्तानी हैंडलर आतंकी से उसकी लोकेशन पूछ रहा है।

उस आतंकी ने जवाब दिया, “2 बजे”। ये सारी चैट रोमन लैटर्स में है।

पाकिस्तानी हैंडलर के सवाल पर आतंकी ने बेहद छोटा जवाब दिया। उसने केवल 2 बजे ही लिखा।

पाकिस्तानी हैंडलर के सवाल पर आतंकी ने बेहद छोटा जवाब दिया। उसने केवल 2 बजे ही लिखा।

आतंकियों की प्लानिंग की पड़ताल जारी
जांच एजेंसियों ने लिए यह जानकारी बेहद अहम है। इससे बॉर्डर क्रॉस करने और वहां से हाईवे तक आने का समय पता चलता है। अभी चारों मोबाइल फोन की पड़ताल की जा रही है। साथ ही, दूसरे मैसेज भी ट्रेस करने की कोशिश की जा रही है। इससे आतंकियों की प्लानिंग के बारे में अहम सुराग मिल सकते हैं।

बॉर्डर क्रॉस करने से पहले दिए गए मोबाइल
खुफिया एजेंसियों के सूत्रों के मुताबिक, इन आतंकियों को मोबाइल फोन बॉर्डर क्रॉस करने के पहले दिए गए थे। भारत की सीमा में आने के बाद एक गाइड इन्हें जम्मू-दिल्ली हाईवे तक लाया था। वहीं से इन्हे ट्रक में बैठाया गया। जांच एजेंसियां आतंकियों के उस गाइड की तलाश कर रही हैं।

टोल प्लाजा पर ट्रक का नंबर ट्रेस हुआ
गुरुवार सुबह कश्मीर की तरफ लेकर जाते वक्त आतंकियों के ट्रक ने सुबह 3:55 बजे साम्बा जिले के ठंडी खुई टोल प्लाजा को क्रॉस किया। यहां ट्रक का नंबर नंबर जेके 01एल 1055 ट्रेस हुआ। यहां से करीब 35 किलोमीटर दूर बन टोल प्लाजा पर यह ट्रक 4:45 पर पहुंचा। सिक्योरिटी फोर्सेस ने इसी जगह आतंकियों से भरे ट्रक को उड़ा दिया था।



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *