Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

RSS Chief Mohan Bhagwat address Independence Day self dependent nation | जब तक हम चीन पर निर्भर रहेंगे, तब तक उसके सामने झुकना पड़ेगा


मुंबईएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
RSS चीफ मोहन भागवत ने कहा कि लड़ाइयां लड़ने वाले महापुरुष प्रेरणा देते हैं। आज उनको याद करने का समय है। - Dainik Bhaskar

RSS चीफ मोहन भागवत ने कहा कि लड़ाइयां लड़ने वाले महापुरुष प्रेरणा देते हैं। आज उनको याद करने का समय है।

RSS चीफ मोहन भागवत ने स्वतंत्रता दिवस पर मुंबई के IES राजा स्कूल में तिरंगा फहराया। इस दौरान उन्होंने कहा कि हम इंटरनेट और तकनीक का इस्तेमाल करते हैं। जो मूल रूप से भारत से नहीं आती। हम कितना भी चीन के बारे में चिल्लाएं, लेकिन आपके फोन में जो भी चीजें हैं, वह चीन से ही आती हैं। जब तक चीन पर निर्भरता रहेगी, तब तक उसके सामने झुकना पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि स्वदेशी होने का मतलब अपनी शर्तों पर कारोबार करना है। सरकार का काम उद्योगों को सहायता और प्रोत्साहन देना है। सरकार को देश के विकास के लिए जो जरूरी है, उसका उत्पादन करने के निर्देश देने चाहिए। प्रोडक्शन लोगों को ध्यान में रखकर होना चाहिए।

15 अगस्त 1947 को हम जीवन चलाने के लिए स्वतंत्र हुए
भागवत ने कहा कि किसी भी विदेशी आक्रांता का पैर हमारे जमीन पर पड़ता तो संघर्ष शुरू हो जाता था। देश पर आक्रमणकारियों ने कई बार हमला किया, 15 अगस्त को इसे पूरी तरह से रोक दिया गया। लड़ाइयां लड़ने वाले महापुरुष प्रेरणा देते हैं। आज उनको याद करने का समय है। 15 अगस्त 1947 को हम अपना जीवन चलाने के लिए स्वतंत्र हो गए।

मुंबई के राजा शिवाजी हाई स्कूल में 75वें स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा फहराने के बाद सलामी देते मोहन भागवत।

मुंबई के राजा शिवाजी हाई स्कूल में 75वें स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा फहराने के बाद सलामी देते मोहन भागवत।

लोगों के कल्याण के लिए कितना वापस दे रहे
भागवत ने कहा कि जीवन स्तर इस बात से तय नहीं होना चाहिए कि हम कितना कमाते हैं, बल्कि इस बात से तय होना चाहिए कि हम लोगों के कल्याण के लिए कितना वापस देते हैं। हम खुश होंगे, जब हम सबके कल्याण पर विचार करेंगे। खुश रहने के लिए बेहतर आर्थिक स्थिति होनी चाहिए और इसके लिए वित्तीय मजबूती की जरूरत होती है।

तिरंगे में भगवा त्याग, पवित्रता की प्रेरणा देता है
RSS चीफ ने कहा कि राष्ट्रध्वज की तरफ देखेंगे तो पता चलेगा कि योग्य बने रहना पड़ेगा। तिरंगे में भगवा त्याग, पवित्रता की प्रेरणा देता है। सबसे ऊपर पर होने के कारण हमारा लक्ष्य है कि समाज को ज्ञान की तरफ ले चलें। उन्होंने कहा कि भारत ने कई उदाहरण खड़े किए। हमें नकल करने की जरूरत नहीं है। हमारे पास हजारों साल की कसौटी पर खरा उतरा आर्थिक विचार है।

दुश्मनों को नए भारत का संदेश
इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाल किले की प्राचीर से सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि दुश्मनों को नए भारत का संदेश दिया गया है। उन्हें बताया कि भारत बदल रहा है, भारत कठिन से कठिन फैसले ले सकता है और इससे झिझकता नहीं है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *