Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Samajwadi Party Will Conduct Cycle Yatra For Election. – यूपी: साइकिल यात्रा के बहाने वोट बैंक साधने की कोशिश में सपा, 12 मार्च को रामपुर से होगी शुरुआत


सपा के राष्ट्रीय अखिलेश यादव।
– फोटो : amar ujala

ख़बर सुनें

सपा अपने आधार वोट बैंक को सहेजने के लिए लगातार नई रणनीति अपना रही है। 12 मार्च से रामपुर से शुरू होने वाली साइकिल यात्रा भी इसी रणनीति का हिस्सा है। हालांकि यात्रा का उद्देश्य आजम खां पर हुई कार्रवाई का विरोध बताया जा रहा है, लेकिन इसके गहरे सियासी निहितार्थ हैं।

रामपुर से निकलने वाली यह साइकिल यात्रा बरेली, शाहजहांपुर, लखीमपुर, सीतापुर, होते हुए लखनऊ पहुंचेगी। यात्रा की शुरुआत मोहम्मद अली जौर विवि. में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की जनसभा से होगी। यात्रा के दौरान विभिन्न स्थानों पर होने वाली जनसभा और चौपाल में मोहम्मद अली जौहर विवि के संस्थापक व सांसद मो. आजम खां के खिलाफ हुई कार्रवाई का मुद्दा पुरजोर तरीके से उठाया जाएगा। साथ ही अन्य मुद्दों को उठाते हुए भाजपा सरकार पर हमला बोलने की तैयारी है।

जनसभाओं में आजम खां के जरिए समुदाय विशेष के वोटबैंक को सहेजने की रणनीति बनाई गई है। जनसभाओं में लोगों को यह भरोसा भी दिलाने की तैयारी है कि जिस तरह से आजम खां के साथ सपा खड़ी है। उसी तरह वह अन्य लोगों का भी साथ निभाया जाएगा। इस रणनीति के तहत पार्टी के आधार वोटबैंक को नए सिरे से लामबंद करने की भी कोशिश है। यह यात्रा जिन जिलों से होकर गुजर रही है, उनमें दर्जनभर विधानसभा क्षेत्रों में मुस्लिम वोटबैंक मजबूत स्थिति में है। रणनीतिकारों का मानना है कि यात्रा से निकलने वाला संदेश पूरे प्रदेश में पार्टी के लिए सहायक होगा।

रणनीतिकारों का मानना है कि आजम खां के जरिए एक तरह आधार वोटबैंक लामबंद होगा तो दूसरी तरफ युवाओं को जोड़ा जा सकेगा। क्योंकि जौहर विवि के बहाने सपा शासन में किए गए शैक्षिक विकास को भी लोगों को याद दिलाया जाएगा। जौहर विवि में पहले दिन होने वाली अखिलेश यादव की जनसभा इसी रणनीति का हिस्सा है।

कहां से कहां जाएगी यात्रा
रामपुर से 12 मार्च को शुरू होने वाली यह साइकिल यात्रा विभिन्न जिलों से होकर गुजरेगी। 13 मार्च को प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल रामपुर के अंबेडकर पार्क से यात्रा को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। 14 मार्च को नेता विरोधी दल विधानसभा रामगोविंद चौधरी बरेली के मीरगंज से यात्रा रवाना करेंगे। 15 को यात्रा कटरा पहुंचेगी।

16 मार्च को कटरा से शाहजहांपुर और 17 मार्च को अचौलियां लखीमपुर पहुंचेगी। 18 मार्च को यात्रा सीतापुर पहुंचेगी। 19 मार्च को सीतापुर से विधान परिषद में नेता विरोधी दल अहमद हसन यात्रा को रवाना करेंगे। यात्रा 20 मार्च को बख्शी का तालाब होते हुए लखनऊ पहुंचेगी और 21 मार्च को पार्टी मुख्यालय पर अखिलेश यादव के संबोधन के साथ यात्रा का समापन होगा।

सपा अपने आधार वोट बैंक को सहेजने के लिए लगातार नई रणनीति अपना रही है। 12 मार्च से रामपुर से शुरू होने वाली साइकिल यात्रा भी इसी रणनीति का हिस्सा है। हालांकि यात्रा का उद्देश्य आजम खां पर हुई कार्रवाई का विरोध बताया जा रहा है, लेकिन इसके गहरे सियासी निहितार्थ हैं।

रामपुर से निकलने वाली यह साइकिल यात्रा बरेली, शाहजहांपुर, लखीमपुर, सीतापुर, होते हुए लखनऊ पहुंचेगी। यात्रा की शुरुआत मोहम्मद अली जौर विवि. में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की जनसभा से होगी। यात्रा के दौरान विभिन्न स्थानों पर होने वाली जनसभा और चौपाल में मोहम्मद अली जौहर विवि के संस्थापक व सांसद मो. आजम खां के खिलाफ हुई कार्रवाई का मुद्दा पुरजोर तरीके से उठाया जाएगा। साथ ही अन्य मुद्दों को उठाते हुए भाजपा सरकार पर हमला बोलने की तैयारी है।

जनसभाओं में आजम खां के जरिए समुदाय विशेष के वोटबैंक को सहेजने की रणनीति बनाई गई है। जनसभाओं में लोगों को यह भरोसा भी दिलाने की तैयारी है कि जिस तरह से आजम खां के साथ सपा खड़ी है। उसी तरह वह अन्य लोगों का भी साथ निभाया जाएगा। इस रणनीति के तहत पार्टी के आधार वोटबैंक को नए सिरे से लामबंद करने की भी कोशिश है। यह यात्रा जिन जिलों से होकर गुजर रही है, उनमें दर्जनभर विधानसभा क्षेत्रों में मुस्लिम वोटबैंक मजबूत स्थिति में है। रणनीतिकारों का मानना है कि यात्रा से निकलने वाला संदेश पूरे प्रदेश में पार्टी के लिए सहायक होगा।


आगे पढ़ें

शैक्षिक विकास का मुद्दा उठेगा



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *