Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

The Congress has told the high command that if I do not get the freedom to take the decision, I will crack it brick by brick; There is no use in becoming a sight horse | कांग्रेस हाईकमान को कह चुका कि फैसला लेने की छूट नहीं मिली तो ईंट से ईंट खड़का दूंगा; दर्शनी घोड़ा बनने का फायदा नहीं


  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • The Congress Has Told The High Command That If I Do Not Get The Freedom To Take The Decision, I Will Crack It Brick By Brick; There Is No Use In Becoming A Sight Horse

जालंधर26 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
पंजाब कांग्रेस इंचार्ज हरीश रावत ने कहा था कि सिद्धू को पार्टी प्रधान बनाया, पूरी कांग्रेस नहीं सौंपी। - Dainik Bhaskar

पंजाब कांग्रेस इंचार्ज हरीश रावत ने कहा था कि सिद्धू को पार्टी प्रधान बनाया, पूरी कांग्रेस नहीं सौंपी।

कांग्रेस के पंजाब प्रधान नवजोत सिद्धू ने अब सीधी धमकी दी है कि अगर निर्णय लेने की छूट न दी तो ईंट से ईंट खड़का दूंगा। दर्शनी घोड़ा बनने का कोई फायदा नहीं। हालांकि यह धमकी कांग्रेस हाईकमान को है या फिर कैप्टन अमरिंदर सिंह को, इसको लेकर सियासी चर्चाओं का बाजार गरम है। सिद्धू ने गुरवार को अमृतसर में व्यापारियों के साथ बैठक में यह बात कही। सिद्धू ने कहा कि मैं पहले ही हाईकमान को यह बात कहकर आ चुका हैं।

यह बात इसलिए अहम है क्योंकि कैप्टन के खिलाफ बगावत के बाद कांग्रेस हाईकमान की तरफ से हरीश रावत ने कहा था कि सिद्धू को पंजाब प्रधान बनाया है, पूरी कांग्रेस नहीं सौंपी। वहीं, कश्मीर व पाकिस्तान को लेकर विवादित टिप्पणी करने वाले सलाहकारों को हटाने की चेतावनी भी दी थी। रावत ने कहा था कि सिद्धू उन्हें खुद हटाएं वर्ना पार्टी हटा देगी। इसके जरिए सिद्धू को स्पष्ट संदेश दिया गया था कि वे पंजाब में मनमानी न करें। इसके अलावा कैप्टन अमरिंदर सिंह की सांसद पत्नी परनीत कौर ने स्पष्ट कहा था कि कांग्रेस में झगड़े से लेकर कैप्टन के खिलाफ बगावत के पीछे नवजोत सिद्धू का हाथ है।

यह कहा सिद्धू ने

मैं हाईकमान को एक ही बात कहकर आया हूं, अगर मैं पंजाब मॉडल के जरिए लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरूंगा तो अगले 20 साल पंजाब से कांग्रेस नहीं जाएगी। अगर आप मुझे निर्णय लेने की छूट नहीं दोगे तो फिर मैं ईंट से ईंट भी खड़काउंगा। दर्शनी घोड़ा बनने का कोई फायदा नहीं। पंजाब मॉडल के आगे दिल्ली मॉडल भी फेल हो जाएगा।

सौगंध व वादे के बहाने कैप्टन पर निशाना

सिद्धू ने इस दौरान कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी टारगेट किया। इशारे से सिद्धू ने कहा कि मैं न तो सौगंध खाउंगा और न ही वादा करूंगा लेकिन पंजाब मॉडल के 6 महीने में लोग खुद अपने विकास के लिए काम तय करेंगे, यह मैं वचन देता हूं। कैप्टन ने पिछले विस चुनाव में पंजाब से नशा खत्म करने के लिए गुटका साहिब की सौगंध खाई थी। इसके अलावा घर-घर रोजगार से लेकर सस्ती बिजली जैसे कई वादे किए थे।

सांसद औजला बोले, सिद्धू बताएं किसकी ईंट से ईंट खड़काएंगे

अमृतसर से कांग्रेसी सांसद गुरजीत औजला ने सिद्धू के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ईंट से ईंट तो विरोधी पार्टियों की बजाई जा सकती है, किसी अपने की नहीं। मुझे नहीं पता कि वो किसके बारे में यह कह रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह बयान निंदनीय है। इससे पार्टी की छवि खराब होती है और कार्यकर्ताओं का हौंसला भी टूटता है। यह सिद्धू ही बता सकते हैं कि वो किसकी ईंट से ईंट बजाने की बात कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *