Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Those who accept mistakes and try to rectify them not only get respect from the people but they also become an inspiration to others. | गलतियों को स्वीकार करने और उनमें सुधार करने वालों को लोगों से न सिर्फ सम्मान मिलता है बल्कि वे दूसरों के लिए प्रेरणा भी बनते हैं


  • Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Dharm
  • Those Who Accept Mistakes And Try To Rectify Them Not Only Get Respect From The People But They Also Become An Inspiration To Others.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एक दिन पहले

  • कॉपी लिंक

महात्मा गांधी बाल विवाह के विरोधी थे। लड़कियों की कम उम्र में शादी को लेकर हमेशा उनका विचार बहुत स्पष्ट रहा कि उन्हें भी अपना जीवन संवारने, पढ़ने-लिखने का पूरा अवसर मिलना चाहिए। ऐसा इसलिए था, क्योंकि गांधी जी की शादी काफी कम उम्र में हो गई थी। बाल विवाह का दंश उन्होंने खुद भी झेला था।

उस समय कस्तूरबा की उम्र और कम थी। वे ज्यादा पढ़ी-लिखी भी नहीं थीं। शुरुआती दिनों में गांधी जी उन्हें घर से निकलने भी नहीं देते थे। उन पर शक भी करते थे। ये सारी बातें खुद गांधी जी ने बाद में स्वीकार भी कीं। उन्होंने इसे अपने जीवन की बड़ी गलती माना। इसे सुधारने से पहले, उन्होंने उसे सार्वजनिक तौर पर स्वीकार भी किया कि उनकी मानसिकता संकीर्ण थी कि कहीं बाहर जाकर कस्तूरबा किसी अन्य पुरुष से बात न करें।

गांधी जब भी बाल विवाह और नारी स्वतंत्रता की बात करते तो हमेशा कहते थे कि बाल विवाह के क्या दुष्परिणाम होते हैं, ये मैंने खुद देखा है। इस पीड़ा को भोगा है। उनका हमेशा कहना था कि आपके जीवन में इतनी पारदर्शिता होनी चाहिए कि आप गलती करें तो उसे स्वीकार करने की हिम्मत भी रखें। यही सत्य उनके जीवन में हमेशा बना रहा। इसी सत्य ने उन्हें लोगों की बीच इतना लोकप्रिय और विश्वसनीय बनाया।

सीख – गलतियां सुधारने के साथ स्वीकार करना भी आवश्यक है। इससे आपके जीवन में सत्य आता है। सत्य ही आपको सम्मान दिलाता है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *