Most Popular

Social Media

Get The Latest Updates

Subscribe To Our Weekly Newsletter

No spam, notifications only about new products, updates.

Up-uttar-pradesh-budget-2021-news-in-hindi: Big Announcements In Up Budget 2021-22. – Up Budget 2021: योगी सरकार ने बजट में 27 हजार करोड़ की नई योजनाएं शामिल कीं, पढ़ें- 10 बड़ी घोषणाएं


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए अब तक का सबसे बड़ा 5 लाख 50 हजार 270 करोड़ 78 लाख रुपये का बजट पेश किया जिसमें कई बड़ी घोषणाएं की हैं। बजट में 27 हजार 598 करोड़ 40 लाख (27,598.40 करोड़) रुपये की नई योजनाएं शामिल की गई हैं।

औद्योगिक विकास एवं अवस्थापना के लिए की गई घोषणाएं
– प्रदेश सरकार ने पूर्वांचल पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के लिए 1107 करोड़ रुपये का एलान किया।
– गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए 860 करोड़ रुपये का एलान किया।
– बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए 1492 करोड़ रुपये का एलान किया।
– गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण हेतु 7200 करोड़ रुपये और निर्माण कार्य के लिए 489 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था की।

बजट में किसानों के लिए की गई घोषणाएं
– प्रदेश सरकार ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 से आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना संचालित की जाएगी। इस योजना के लिए 100 करोड़ रुपये प्रस्तावित किए गए हैं।
– मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के लिए अंतर्गत 600 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था की गई है।
– किसानों को मुफ्त पानी की सुविधा देने के लिए 700 करोड़ रुपये की बजट व्यवस्था की गई है।
– रियायती दरों पर किसानों को फसली ऋण उपलब्ध कराने के लिए 400 करोड़ रुपये की व्यवस्था की है।
– प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान के लिए वर्ष 2021-22 के लिए 15 हजार सोलर पंपों की स्थापना का लक्ष्य निर्धारित किया है।

औद्योगिक विकास एवं अवस्थापना के लिए की गई घोषणाएं
– प्रदेश सरकार ने पूर्वांचल पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के लिए 1107 करोड़ रुपये का एलान किया।
– गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए 860 करोड़ रुपये का एलान किया।
– बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए 1492 करोड़ रुपये का एलान किया।
– गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण हेतु 7200 करोड़ रुपये और निर्माण कार्य के लिए 489 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था की।

– मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना को और परिष्कृत कर लागू करने का निर्णय, जिसके अंतर्गत सभी पात्र बालिकाओं को टैबलेट उपलब्ध कराने के लिए 1200 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
– महिलाओं एवं बच्चों में कुपोषण की समस्या के निदान के लिए मुख्यमंत्री सक्षम सुपोषण योजना क्रियान्वित की जाएगी। इसके लिए 100 करोड़ रुपये की घोषणा की गई है।
– पुष्टाहार कार्यक्रम के लिए 4094 करोड़ रुपये और राष्ट्रीय पोषण अभियान के लिए 415 करोड़ रुपये बजट की घोषणा।
–  सरकार ने महिला सामर्थ्य योजना के नाम से नई योजना का किया एलान। 200 करोड़ रुपये की व्यवस्था की।

युवाओं के लिए की गई घोषणाएं
– अभ्युदय योजना के लिए 20 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
– संस्कृत विद्यालयों में अध्ययनरत निर्धन छात्रों को गुरुकुल पद्धति के अनुरुप निशुल्क छात्रावास और भोजन की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

– प्रदेश में एक जिला- एक उत्पाद योजना के लिए 250 करोड़ रुपये की घोषणा।
– उत्तर प्रदेश स्टेट स्पिनिंग कंपनी की बंद पड़ी कताई मिलों की परिसंपत्तियों को पुनर्जीवित कर पीपीपी मोड में औद्योगिक पार्क/आस्थान/क्लस्टर स्थापित कराए जाने का निर्णय। इसके लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
– मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
– शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के पारंपरिक कारीगरों के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लिए 30 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था।

आई टी एवं इलेक्ट्रानिक्स के लिए घोषणाएं
– यमुना एक्सप्रेस वे में जेवर एअरपोर्ट के समीप एक इलेक्ट्रानिक सिटी की स्थापना। बुंदेलखंड में रक्षा इलेक्ट्रानिक मैन्यूफैक्चरिंग क्लस्टर की स्थापना का लक्ष्य।
– लखनऊ में एअरपोर्ट के सामने नादरगंज में 40 एकड़ क्षेत्रफल में पीपीपी मॉडल पर अत्याधुनिक सूचना प्रौद्योगिक काम्प्लैक्स का निर्माण प्रस्तावित।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए अब तक का सबसे बड़ा 5 लाख 50 हजार 270 करोड़ 78 लाख रुपये का बजट पेश किया जिसमें कई बड़ी घोषणाएं की हैं। बजट में 27 हजार 598 करोड़ 40 लाख (27,598.40 करोड़) रुपये की नई योजनाएं शामिल की गई हैं।

औद्योगिक विकास एवं अवस्थापना के लिए की गई घोषणाएं

– प्रदेश सरकार ने पूर्वांचल पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के लिए 1107 करोड़ रुपये का एलान किया।

– गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए 860 करोड़ रुपये का एलान किया।

– बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए 1492 करोड़ रुपये का एलान किया।

– गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण हेतु 7200 करोड़ रुपये और निर्माण कार्य के लिए 489 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था की।

बजट में किसानों के लिए की गई घोषणाएं

– प्रदेश सरकार ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य रखा है। इसके लिए वित्तीय वर्ष 2021-22 से आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना संचालित की जाएगी। इस योजना के लिए 100 करोड़ रुपये प्रस्तावित किए गए हैं।

– मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के लिए अंतर्गत 600 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था की गई है।

– किसानों को मुफ्त पानी की सुविधा देने के लिए 700 करोड़ रुपये की बजट व्यवस्था की गई है।

– रियायती दरों पर किसानों को फसली ऋण उपलब्ध कराने के लिए 400 करोड़ रुपये की व्यवस्था की है।

– प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान के लिए वर्ष 2021-22 के लिए 15 हजार सोलर पंपों की स्थापना का लक्ष्य निर्धारित किया है।

औद्योगिक विकास एवं अवस्थापना के लिए की गई घोषणाएं

– प्रदेश सरकार ने पूर्वांचल पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के लिए 1107 करोड़ रुपये का एलान किया।

– गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए 860 करोड़ रुपये का एलान किया।

– बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए 1492 करोड़ रुपये का एलान किया।

– गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण हेतु 7200 करोड़ रुपये और निर्माण कार्य के लिए 489 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था की।


आगे पढ़ें

महिलाओं के लिए की गई घोषणाएं



Source link

Share:

Share on facebook
Share on twitter
Share on pinterest
Share on linkedin
Share on whatsapp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *